By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

‘सारे मोदी चोर’ बयान पर राहुल के खिलाफ पूर्णिया के सीजेएम कोर्ट में परिवाद दायर

;

- sponsored -

आज राहुल के खिलाफ सारे मोदी चोर है के मामले में बिहार की एक अदालत में शिकायत दर्ज की गई है. राहुल के खिलाफ ये शिकायत पूर्णिया के सीजेएम कोर्ट में की गई है. कस्बा निवासी भाजपा के सदस्य मनोज मोदी ने अपने अधिवक्ता दिलीप कुमार दीपक के माध्यम से सीजेएम कोर्ट में परिवाद पत्र दायर किया है.

-sponsored-

-sponsored-

‘सारे मोदी चोर’ बयान पर राहुल के खिलाफ पूर्णिया के सीजेएम कोर्ट में परिवाद दायर

सिटी पोस्ट लाइव : कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की मुसीबत इनदिनों कम होने का नाम नहीं ले रही है. मंगलवार को जहां उनके चौकीदार चोर है के नारे के बाद सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में संज्ञान लेते हुए उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी किया था, तो वहीँ आज राहुल के खिलाफ सारे मोदी चोर है के मामले में बिहार की एक अदालत में शिकायत दर्ज की गई है. राहुल के खिलाफ ये शिकायत पूर्णिया के सीजेएम कोर्ट में की गई है. कस्बा निवासी भाजपा के सदस्य मनोज मोदी ने अपने अधिवक्ता दिलीप कुमार दीपक के माध्यम से सीजेएम कोर्ट में परिवाद पत्र दायर किया है.

इस मामले में अधिवक्ता दिलीप कुमार दीपक ने कहा कि बंगलुरू की एक सभा में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, नीरव मोदी समेत मोदी समाज को चोर बताकर उसका अपमान किया है. इस कारण आज उनके मुवक्किल मनोज मोदी ने प्रभारी सीजेएम नवीन कुमार श्रीवास्तव के कोर्ट में परिवाद-पत्र दायर किया है.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

बता दें इससे पहले बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने भी सिविल कोर्ट में इसी मामले में मानहानी का मुकदमा दायर किया था. सुशील मोदी ने दायर की गई अर्जी में राहुल गांधी पर यह आरोप लगाया है कि उनके इस भाषण से जितने भी मोदी टाइटल वाले व्यक्ति हैं उनको चोर बताया गया है जिससे समाज में उनकी छवि धूमिल हुई है .यह एक आपराधिक कृत्य है जिसकी सजा राहुल गांधी को अवश्य न्यायालय से मिलनी चाहिए.

बताते चलें कि पूर्णिया के सीजेएम कोर्ट ने आवेदन पर सुनवाई की और फैसला सुरक्षित रख लिया है. इस मामले में आवेदक मनोज मोदी ने कहा कि राहुल गांधी ने सभी मोदी समाज को चोर बताकर, उसका अपमान किया है. इस कारण मैंने कोर्ट में परिवाद-पत्र दायर कर इंसाफ की गुहार लगाई है.

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.