By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

सुबह से दिखने लगा है भारत बंद का असर, सुबह से ही रेल-सड़क जाम, प्रदर्शन जारी

;

- sponsored -

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सुबह से दिखने लगा है भारत बंद का असर, सुबह से ही रेल-सड़क जाम, प्रदर्शन जारी

सिटी पोस्ट लाइव : कांग्रेस के भारत बंद बंद को लेकर सुबत सात बजे से ही बंद समर्थक सड़क और रेल पटरी पर उतर चुके हैं. सुबह सात बजे से ही पटना के राजेंद्र नगर रेलवे स्टेशन पर बंद समर्थकों ने रेल पटरी जाम कर दिया. ट्रेन की इंजन पर बैठ गए. जाप के संरक्षक अपने समर्थकों के साथ सुबह सुबह सड़क पर उतर गए. पप्पू यादव ने बंद को तो सफल बनाया. लेकिन ये पूछे जाने पर कि क्या लोगों का एनडीए से मोहभंग हो गया है, उन्होंने कहा कि एनडीए से मोहभंग का सवाल नहीं. जनता डीजल पेट्रोल के बढ़ते दाम से ट्रस्ट है. इस बंद की सफलता का मतलब एनडीए से मोहभंग नहीं बल्कि महंगाई से जनता नाराज है. उन्होंने कहा कि सरकार को तुरत महंगाई पर नियंत्रण करना चाहिए .

कांग्रेस के इस बंद को सभी विपक्षी दलों का समर्थन है. आरजेडी, बाम दल पप्पू यादव की जाप, एनसीपी समेत दो दर्जन से ज्यादा राजनीतिक दल  आज के बंद के खिलाफ सड़क पर उतरेगें. राजधानी पटना में तो भारत बंद का असर सुबह से ही दिख ही रहा है साथ ही जिलों से भी सुबह से ही सड़क जैम और प्रदर्शन शुरू हो गया है. आमतौर पर सुबह 11 बजे के बाद ही बंद समर्थक सड़क पर उतरते हैं. लेकिन आज डीजल पेट्रोल की बढ़ती कीमतों से लोग इस कदर नाराज हैं कि सुबह से ही सड़क पर उतर गए हैं.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

बंद समर्थकों जाप बंडल नेताओं ने शांतिपूर्ण तरीके से बंद का आह्वान किया है. लेकिन पिछले अनुभव की वजह से पुलिस ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं. जिलों के पुलिस कंट्रोल रूम में अतिरिक्त फोर्स की तैनाती की गई है. प्रदर्शन स्थल से लेकर हाईवे की सुरक्षा के लिए पेट्रोलिंग बढ़ा दी गई है.चप्पे-चप्पे पर पुलिस की नजर रहेगी. पुलिस के साथ जिला प्रशासन के अधिकारी भी सुरक्षा और कानून व्यवस्था की मॉनीटरिंग कर रहे हैं. लेकिन भारत बंद को देखते हुए कई राज्यों ने सरकारी छुट्टी का ऐलान किया है. कांग्रेस ने दावा किया है कि भारत बंद के दौरान किसी भी प्रकार की हिंसा नहीं होगी.

बंद का समर्थन करने वाले दलों में सपा, बसपा, डीएमके समेत 21 दल हैं.बिहार के सभी निजी स्कूल बंद है. सरकारी स्कूल खुले हैं.लेकिन जिस तरह से बंद का असर दिख रहा है, सरकारी स्कूलों में बच्चों के पहुँचाने की संभावना नहीं है. कर्नाटक सरकार ने बंद के चलते सोमवार को सभी शिक्षण संस्थानों में छुट्टी का ऐलान कर दिया है. सरकारी दफ्तरों में भी छुट्टी रहेगी. इधर, आम आदमी पार्टी और ममता बनर्जी की टीएमसी ने कांग्रेस के इस बंद से किनारा कर लिया है. भारत बंद से कई चीजों को बाहर रखा गया है. इसमें दवा की दुकान अस्पताल और एंबुलेंस को राहत दी गई है, ताकि मरीजों और तीमारदारों को किसी तरह की समस्या न हो.

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.