By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

कोरोना में नहीं हुई किसी की भी ऑक्सीजन से मौत, कांग्रेस ने बताया गैर जिम्मेदाराना बयान

HTML Code here
;

- sponsored -

कोरोना काल के दौरान देश के हजारों लोगों की जान चली गई थी. कोरोना काल के दौरान सबसे ज्यादा किल्लत ऑक्सीजन की हुई थी. खबर ये भी थी कि लोगों की जान ऑक्सीजन की किल्लत से भी गई. लेकिन अब केंद्र सरकार के इस दावे के बाद की कोरोना काल में ऑक्सीजन की कमी से एक भी मरीज की मौत नहीं हुई है

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : कोरोना काल के दौरान देश के हजारों लोगों की जान चली गई थी. कोरोना काल के दौरान सबसे ज्यादा किल्लत ऑक्सीजन की हुई थी. खबर ये भी थी कि लोगों की जान ऑक्सीजन की किल्लत से भी गई. लेकिन अब केंद्र सरकार के इस दावे के बाद की कोरोना काल में ऑक्सीजन की कमी से एक भी मरीज की मौत नहीं हुई है, और उसके बाद बिहार के स्वस्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय का बयान आया है, उनके मुताबिक बिहार में भी किसी की मौत ऑक्सीजन की किल्लत से नहीं हुई है. इस बयान ने बिहार में राजनीति गर्म कर दी है. मंगल पांडे ने पटना में कहा कि बिहार में ऑक्सीजन की कमी से किसी भी मरीज की मृत्यु नहीं हुई है. कोरोना के सेकंड वेब के शुरुआती दिनों में ऑक्सीजन की थोड़ी कमी जरूर हुई थी पर समय रहते पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन की पूरी पूर्ति कर ली गई. इस कारण ऑक्सीजन की कमी से किसी की मौत नहीं हुई है.

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने कांग्रेस पर राजनीति करने का आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस पिछले 70 सालों से सिर्फ शासन करना जानती है. आम लोगों से इसका कोई लेना देना नहीं. राहुल गांधी पर सवाल खड़ा करते हुए मंगल पांडे ने कहा कि करोना काल में राहुल गांधी या प्रियंका किसी ने भी लोगों का हालचाल जानने किसी के पास नहीं गए. आज जब लोकसभा का सत्र शुरू हुआ है तो बेवजह हंगामा खड़ा कर रहे हैं. स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे के बयान के बाद कांग्रेस ने इसे गैर जिम्मेदाराना बयान बताया है. कांग्रेस प्रवक्ता राजेश राठौर ने कहा कि कोरोना काल में सैकड़ों की संख्या में लोगों की मौत हुई. लोग ऑक्सीजन की कमी के कारण छटपटा रहे थे और उन्हें ऑक्सीजन नहीं मिल रहा था. आज किस तरह यह दावा कर रहे हैं कि बिना ऑक्सीजन के किसी की मौत नहीं हुई.

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.