By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

जम्मू-कश्मीर और अयोध्‍या की तर‍ह NRC के स्‍वागत को भी तैयार है देश : किशोर कुमार

- sponsored -

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा देश भर में NRC (राष्‍ट्रीय नागरिकता रजिस्‍टर) लागू करने की बात का भाजपा ने समर्थन किया और कहा है कि NRC से किसी को भी,भले ही वो किसी भी धर्म के हों, उन्हें इससे परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है। यह केवल सभी को एनआरसी के तहत लाने की प्रक्रिया है।

-sponsored-

जम्मू-कश्मीर और अयोध्‍या की तर‍ह NRC के स्‍वागत को भी तैयार है देश : किशोर कुमार

सिटी पोस्ट लाइव : केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा देश भर में NRC (राष्‍ट्रीय नागरिकता रजिस्‍टर) लागू करने की बात का भाजपा ने समर्थन किया और कहा है कि NRC से किसी को भी,भले ही वो किसी भी धर्म के हों, उन्हें इससे परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है। यह केवल सभी को एनआरसी के तहत लाने की प्रक्रिया है। इसके जरिये वैसे लोगों को देश से बाहर किया जायेगा, जो फर्जी तरीके यहां का आधार कार्ड, वोटर कार्ड, कई तरह के लाइसेंस बना कर घुसपैठ कर के यहाँ के वास्तविक नागरिक की तरह से रह रहे हैं। उक्‍त बातें पूर्व विधायक सह भाजपा नेता किशोर कुमार ने आज सुपौल में आयोजित एक संवाददाता सम्‍मेलन के दौरान कही ।उन्‍होंने कहा कि NRC से किसी को भी डरने की कोई जरूरत नहीं है ।हम चाहते हैं कि यह ठीक उसी तरह से देशभर में लागू हो,जिस तरह से अनुच्‍छेद 370 और धारा 35 A खत्‍म किया गया और अयोध्‍या में राम मंदिर निर्माण का फैसला दिया गया ।इसका स्‍वागत देश की करोड़ों जनता ने दिल खोलकर किया और देश में इस दौरान शांति और अमन कायम रहा है । अब जनता NRC को भी शांतिपूर्ण तरीके से अपनाने को तैयार है ।

किशोर कुमार आगे ने कहा कि जिन लोगों का नाम ड्राफ्ट लिस्ट में नहीं आया है,उन्हें ट्रिब्यूनल के पास जाने का पूरा हक है ।पूरे असम में ट्रिब्यूनल का गठन किया गया है ।जो लोग ट्रिब्यूनल के लिए कानूनी मदद की व्यवस्था करने में असमर्थ हैं,उन्हें असम सरकार वकील मुहैया करवाएगी ।उन्‍होंने कहा कि आज हमारे सामने जनसंख्‍या असंतुलन भी एक बड़ी समस्‍या है,जिसके लिए घुसपैठिये भी,जिम्‍मेवार हैं ।आज बिहार-झारखंड से लेकर जम्‍मू कश्‍मीर तक घुसपैठियों ने अपने कदम गड़ा लिये हैं और हमारे देश को राजनीतिक,सांस्‍कृतिक, सामाजिक और बौद्धिक आधार को हानि पहुंचा रहे हैं ।ऐसे में अब समय आ गया है,जब देश में अवैध तरीके से घुसकर रह रहे, लोगों को यहां से निकाला जाये । उसके बाद जनसंख्‍या नियंत्रण कानून भी लागू होना चाहिए ।
उन्‍होंने कहा कि हमने हमेशा असम के साथ बिहार समेत पूरे देश में NRC लागू करने की मांग की है ।

Also Read

-sponsored-

इसके लिए बीते दिनों राष्‍ट्रपति जी से लेकर मुख्‍यमंत्री जी को भी पत्र लिखा है और उसमें हमने बिहार में घुसपैठियों की भौगोलिक बसावट की चर्चा भी की थी ।बिहार में बंगलादेशी घुसपैठियों की संख्‍या अधिक है और अब तो रोहंगिया घुसपैठिये भी आसानी से घुसपैठ कर रहे हैं ।उन्‍होंने कहा कि देश को तोड़ने वाली ताकतों ने एक साजिश के तहत असंतुलित जनसंख्‍या पैदा किया है ।खासकर किशनगंज, पूर्णिया,कटिहार,अररिया, सुपौल, सहरसा,मधेपुरा,मधुबनी,दरभंगा, सीतामढ़ी,शिवहर,पूर्वी चंपारण, पश्चिमी चंपारण और बगहा में बांग्‍लादेशी,पश्चिम बंगाल और नेपाल के रास्‍ते होकर आते हैं और देश के विभिन्‍न क्षेत्रों में अवैध दस्‍तावेज बनाकर रहने लगते हैं

।यहां के लोगों के हक – हुकूक पर डाका डाला जा रहा है ।जाहिर तौर पर,इससे यहां के मूल निवासी के समाने संकट खड़ा हो गया है ।यही नहीं,इससे देशविरोधी ताकत,तस्‍करी,नशा आदि गलत चीजें रूकेंगी ।ये सब काम एक साजिश के तहत हो रहा है,जिसे रोकने के लिए जनता NRC के लिए पूरा देश अब तैयार है ।ऐसे में हम बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार जी से आग्रह करते हैं कि वे भी केंद्र सरकार का सहयोग करें और बिहार में NRC लागू करने में सहयोग करें ।किशोर कुमार ने यह भरोसा जताया कि बिहार के मुख्यमंत्री इस मसले पर प्रधानमंत्री के हाथों को मजबूत करेंगे और गैर भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री भी इस नीति को सही ठहराते हुए,साझा कदमताल करेंगे ।

पीटीएन मीडिया ग्रुप के मैनेजिंग एडिटर मुकेश कुमार सिंह की रिपोर्ट

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.