By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

डैमेज कंट्रोल :भूमिहार-ब्राहमण समाज को राज्यसभा और विधान परिषद में मिलेगी सीटें

- sponsored -

नाव से ठीक पहले बीजेपी के कुछ बागी नेताओं की बगावत ने बिहार भाजपा की चिंता बढ़ा दी थी। बागियों में विधानपरिषद डाॅ. सच्चिदानंद राय सबसे आगे थे जिन्होंने टिकट बंटवारे में एक खास तबके की उपेक्षा का आरोप लगाकर निर्दलीय चुनाव लड़ने का एलान कर दिया था। पार्टी के दूसरे नेता सतीश चंद्र दूबे भी नाराज थे। इन नेताओं की नाराजगी और उससे होने वाले नुकसान को न सिर्फ बीजेपी के प्रदेश नेतृत्व ने बल्कि शीर्ष नेतृत्व ने भी भांप लिया।

डैमेज कंट्रोल : भूमिहार-ब्राहमण समाज को राज्यसभा और विधान परिषद में मिलेगी सीटें

सिटी पोस्ट लाइवः चुनाव से ठीक पहले बीजेपी के कुछ बागी नेताओं की बगावत ने बिहार भाजपा की चिंता बढ़ा दी थी। बागियों में विधानपरिषद डाॅ. सच्चिदानंद राय सबसे आगे थे जिन्होंने टिकट बंटवारे में एक खास तबके की उपेक्षा का आरोप लगाकर निर्दलीय चुनाव लड़ने का एलान कर दिया था। पार्टी के दूसरे नेता सतीश चंद्र दूबे भी नाराज थे। इन नेताओं की नाराजगी और उससे होने वाले नुकसान को न सिर्फ बीजेपी के प्रदेश नेतृत्व ने बल्कि शीर्ष नेतृत्व ने भी भांप लिया। डैमेज कंट्रोल की कोशिश शुरू हुई और अब डैमेज कंट्रोल के लिए बड़ा एलान कर दिया गया है। भूमिहार-ब्राह्मण समाज को आने वाले दिनों में राज्यसभा और विधानपरिषद में सीटें दी जायेंगी. ताकि लोकसभा में टिकट की क्षतिपूर्ति को कम किया जा सके. बिहार प्रभारी भूपेन्द्र यादव ने कहा कि भूमिहार और ब्राह्मण समाज को उचित प्रतिनिधित्व दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि टिकट बंटवारे को लेकर इस समाज के लोग उपेक्षित महसूस कर रहे थे. इसके बाद डा. सीपी ठाकुर, सच्चिदानंद राय और सतीशचंद्र दूबे ने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात की थी.

मुलाकात के बाद अमित शाह ने नाराज नेताओं को आश्वासन दिया है कि उसकी भरपाई राज्यसभा और विधानपरिषद की सीटों से कर दी जाएगी.टिकट बंटवारे में भूमिहार समाज को उपेक्षित किए जाने से विधानपार्षद सच्चिदानंद राय, सतीशचंद्र दूबे सहित कई नेता नाराज चल रहे थे. कई इलाकों से इस समाज के वोटर खुलेआम बीजेपी के खिलाफ आवाज बुलंद कर रहे थे. इसके बाद पार्टी ने नाराज नेताओं को मनाने की कोशिश की. सच्चिदानंद राय, सीपी ठाकुर, सतीशचंद्र दूबे को दिल्ली बुलाया गया और अमित शाह ने उनसे मुलाकात की.

Also Read

-sponsored-

मुलाकात के बाद आज पार्टी के बिहार प्रभारी भूपेन्द्र यादव पटना पहूंचे और पार्टी कार्यालय में प्रेस कांफ्रेंस में सभी नाराज नेताओं की मौजूदगी में घोषणा किया गया कि अब कोई नाराजगी नहीं है. सभी नाराजगी को दूर कर दिया गया है. सभी नेता पूरे तौर पर पार्टी के लिए काम करेंगे.

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.