By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

DGP बोले-‘जनता की सेवक है पुलिस मालिक नहीं, थानों में आमलोगों के साथ बदसलूकी बर्दाश्त नहीं’

;

- sponsored -

बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने फिर दुहराया है कि पुलिस जनता की सेवक है मालिक नहीं। थानों गरीब, शोषित और पीड़ित लोग अपनी समस्याएं और शिकायत लेकर पहुंचते हैं और ऐसे लोगों के साथ बिहार के किसी भी थाने में बदसलूकी नहीं होनी चाहिए। उन्हें पूरा सम्मान दिया जाना चाहिए और सही तरीकें से उनकी शिकायत सुनी जानी चाहिए और और उनकी समस्याओं एवं शिकायतों के समाधान के लिए जरूरी कदम उठाये जाने चाहिए

-sponsored-

-sponsored-

डीजीपी बोले-‘जनता की सेवक है पुलिस मालिक नहीं, थानों में आमलोगों के साथ बदसलूकी बर्दाश्त नहीं’

सिटी पोस्ट लाइवः बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने फिर दुहराया है कि पुलिस जनता की सेवक है मालिक नहीं। थानों गरीब, शोषित और पीड़ित लोग अपनी समस्याएं और शिकायत लेकर पहुंचते हैं और ऐसे लोगों के साथ बिहार के किसी भी थाने में बदसलूकी नहीं होनी चाहिए। उन्हें पूरा सम्मान दिया जाना चाहिए और सही तरीकें से उनकी शिकायत सुनी जानी चाहिए और और उनकी समस्याओं एवं शिकायतों के समाधान के लिए जरूरी कदम उठाये जाने चाहिए ताकि आमलोगों में पुलिस के प्रति यह भरोसा और मजबूत हो सके कि पुलिस वाकई जनता की सेवक है मालिक नहीं। डीजीपी ने कहा कि बिहार के किसी भी थाने में अगर आमलोगों के साथ बदसलूकी होती है तो ऐसा करने वाले पुलिस के कर्मचारियों एवं अधिकारियों पर सख्त कार्रवाई होगी। उन्होंने शहीदों को लेकर भी बेहद अहम बात कही।

डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि देश के लिए शहादत वही देता है जिसके दिल में यह बात होती है कि देश सबसे उपर है। वतन जान से भी प्यारा है। हिन्दु-मुसलमान सिख ईसाई होने से पहले हम सब भारतीय हैं सब भारत माता के सबूत हैं। सिस्टम में यह विश्वास पैदा होना चाहिए। अगर जात पात और सम्प्रदाय के नाम पर हम लड़ंगे तो देश कमजोर होगा और एक रहेंगे तो कोई ताकत हमें नहीं तोड़ सकती। आपको बता दें कि डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय काम करने के अपने अलग तरीकों के वजह से खासे चर्चित रहे हैं और हाल के दिनों में वे लगातार आधी रात को कई थानों के औचक निरीक्षण पर पहुंचे हैं और गड़बड़ी पाये जाने पर आॅन स्पाॅट कार्रवाई की है और डीजीपी अपने इस एक्शन की वजह से खासे चर्चा में हैं।

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.