By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

EXCLUSIVE: ‘न मैँ गिरा न मेरे हौसलों के मीनार गिरे, मगर मुझे गिराने में कई लोग बार-बार गिरे’

;

- sponsored -

पटना-राजद ने अपने सुप्रीमो लालू प्रसाद का एक पोस्टर जारी किया है। इस पोस्टर में एक एक कार्टून बनाया गया है जिसमें लालू प्रसाद यादव खड़े हैं और उनको गिराने के लिए बीजेपी, ईडी, सीबीआई, आरएसएस जैसे तमाम संगठन और दल लगे है । लेकिन लालू प्रसाद बेबाकी के साथ खड़े हैं । इस पोस्टर में लिखा हुआ है .. न मैँ गिरा न मेरे हौसलों के मीनार गिरे, मगर मुझे गिराने में कई लोग बार-बार गिरे ।

-sponsored-

-sponsored-

EXCLUSIVE: न मैँ गिरा न मेरे हौसलों के मीनार गिरे, मगर मुझे गिराने में कई लोग बार-बार गिरे

सिटी पोस्ट लाइवः राजद ने अपने सुप्रीमो लालू प्रसाद का एक पोस्टर जारी किया है। इस पोस्टर में एक एक कार्टून बनाया गया है जिसमें लालू प्रसाद यादव खड़े हैं और उनको गिराने के लिए बीजेपी, ईडी, सीबीआई, आरएसएस जैसे तमाम संगठन और दल लगे है । लेकिन लालू प्रसाद बेबाकी के साथ खड़े हैं । इस पोस्टर में लिखा हुआ है .. न मैँ गिरा न मेरे हौसलों के मीनार गिरे, मगर मुझे गिराने में कई लोग बार-बार गिरे । जाहिर है बिहार की राजनीति में लालू यादव की एंट्री हो चुकी है। लालू यादव भले हीं चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता हों, बीमार हों लेकिन बिहार की राजनीति में उनकी एंट्री इस पोस्टर के सहारे और सोशल मीडिया के सहारे हो चुकी है। आपको बता दें कि लालू यादव अब अपने राजनीतिक विरोधियों पर आक्रामक हैं और लगातार अपने ट्वीट्स के जरिए निशाना साध रहे हैं। लालू यादव ने एनडीए की संकल्प रैली को लेकर ताबड़तोड़ कई ट्वीट किये थे खासकर उनका पान की गुमटी वाला ट्वीट तो खासा चर्चा में रहा।

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

लालू यादव ने अपने ट्वीट में लिखा था कि एनडीए की संकल्प रैली में जितनी भीड़ थी उतनी तो मुझे देखने के लिए पान की गुमटी पर जमा हो जाया करती थी। लालू यादव के इस ट्वीट के बाद बिहार की राजनीति खूब गरमायी। वैसे भी लालू यादव चाहे जिस हालात में हों उन्हें बिहार की राजनीति से अप्रासंगिक कर देना उनके राजनीतिक विरोधियों के लिए आसान नहीं है। बिना लालू के बिहार में कोई चुनाव नहीं होता और चुनाव में लालू होने का मतलब बहुत कुछ होना है। महागठबंधन को अबकी बार भी लालू की जरूरत है, खासकर राजद उनके कद को जरूर भुनाना चाहेगी इसलिए अब पोस्टरों और ट्वीट्स के सहारे हीं बिहार की राजनीति में लालू की एंट्री की कवायद शुरू हो गयी है।

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.