By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

निष्कासित महिला कांग्रेस ने प्रदेश अध्यक्ष पर गुंजन सिंह पर लगाये गंभीर आरोप

गुंजन सिंह ने आरोपों को बताया निराधार

- sponsored -

झारखंड प्रदेश महिला कांग्रेस कमेटी की सदस्यता से छह साल के लिए निष्कासित सदस्यों ने प्रदेश महिला कांग्रेस की अध्यक्ष गुंजन सिंह और प्रभारी नेटा डिसूजा का जमकर विरोध किया.

निष्कासित महिला कांग्रेस ने प्रदेश अध्यक्ष पर गुंजन सिंह पर लगाये गंभीर आरोप

सिटी पोस्ट लाइव, रांची: झारखंड प्रदेश महिला कांग्रेस कमेटी की सदस्यता से छह साल के लिए निष्कासित सदस्यों ने प्रदेश महिला कांग्रेस की अध्यक्ष गुंजन सिंह और प्रभारी नेटा डिसूजा का जमकर विरोध किया. निष्कासित सदस्यों ने गुंजन सिंह पर गंभीर आरोप लगाते हुए आलाकमान से मांग की है कि उन्हें पद से हटाया जाए. झारखंड प्रदेश महिला कांग्रेस कमेटी की सदस्यता से छह साल के लिए निष्कासित सदस्यों ने प्रदेश महिला कांग्रेस की अध्यक्ष गुंजन सिंह और प्रभारी नेटा डिसूजा का जमकर विरोध किया. निष्कासित सदस्यों ने गुंजन सिंह पर गंभीर आरोप लगाते हुए आलाकमान से मांग की है कि उन्हें पद से हटाया जाए. कांग्रेस कमिटी द्वारा निष्कासित संगीता तिवारी, हेमा मिंज,  राखी कौर, आभा ओझा एवं बिनीता पाठक द्वारा पार्टी नेतृत्व के विरूद्ध लगाया गया आरोप निराधार एवं बेबुनियाद है, जिसका ास्तविकता से कोई सरोकार नहीं है। देश अध्यक्ष गुंजन सिंह ने कहा कि पार्टी से निष्कासित महिलाऐं निष्कासन से चने के लिए संगठन नेतृत्व के विरूद्ध झूठा आरोप लगा रही है, जबकि उक्त हिलाऐं लोकसभा चुनाव के दौरान पार्टी प्रत्याशी को ब्लेकमेल कर पैसा वसूलने का काम करती थी तथा पैसा नहीं मिलने पर पार्टी विरोधी कार्य कर पार्टी प्रत्याशी को हराने का काम की है। साथ हीं साथ दूसरे विपक्षी दलों से सरोकार कर संगठन को क्षति पहुंचाने का भी काम कर चुकी है।  सिंह ने कहा कि उक्त महिलाओं को पार्टी की सदस्यता से स्थायी रूप से निष्कासित कर दिया गया है और भविष्य में उन्हें संगठन में किसी भी प्रकार की जिम्मेवारी नहीं देने की अनुशंसा राष्ट्रीय महिला कांग्रेस अध्यक्ष सुष्मिता देव से की गयी है ताकि संगठन का गरिमा एवं मर्यादा कायम रह सके।

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.