By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

हर्षवर्द्धन और मंगल पांडे के खिलाफ चमकी बुखार को लेकर CJM कोर्ट में मुकदमा दायर 

- sponsored -

बिहार में मासूम बच्चों की मौत का मामला अब कोर्ट तक पहुँचने लगा है. लगातार चमकी बुखार से हो रही मौतों में जिस तरह से मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री का उद्दासीन रवैया रहा उससे लोगों में काफी गुस्सा है. लेकिन अब मंत्रियों की परेशानियां बढ़नेवाली है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्द्धन और मंगल पांडे के खिलाफ दायर अर्जी पर निचली अदालत ने संज्ञान लिया है. कोर्ट ने दोनों नेताओं के खिलाफ जांच के आदेश दिए हैं.

-sponsored-

हर्षवर्द्धन और मंगल पांडे के खिलाफ चमकी बुखार को लेकर CJM कोर्ट में मुकदमा दायर 

सिटी पोस्ट लाइव- बिहार में मासूम बच्चों की मौत का मामला अब कोर्ट तक पहुँचने लगा है. लगातार चमकी बुखार से हो रही मौतों में जिस तरह से मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री का उद्दासीन रवैया रहा उससे लोगों में काफी गुस्सा है. लेकिन अब मंत्रियों की परेशानियां बढ़नेवाली है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्द्धन और मंगल पांडे के खिलाफ दायर अर्जी पर निचली अदालत ने संज्ञान लिया है. कोर्ट ने दोनों नेताओं के खिलाफ जांच के आदेश दिए हैं.

इस मामले की जांच ACJM करेंगे. अब इस मामले की सुनवाई 28 जून को होगी. बता दें कि मुजफ्फरपुर में लगातार हो रही बच्चों की मौत के बीच सामाजिक कार्यकर्ता तमन्ना हाशमी ने अर्जी दायर किया था. हाशमी ने बच्चों की मौत का जिम्मेदार दोनों मंत्रियों को बताते हुए CJM कोर्ट में परिवाद दाखिल किया था.

Also Read

-sponsored-

सुप्रीम कोर्ट ने भी बिहार में हो रही बच्चों की मौत पर कड़ा रुख अख्तियार कर लिया है. चमकी बुखार से हो रही मौतों के बीच कोर्ट ने बिहार सरकार से सात दिनों में जवाब मांगा है. सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में केंद्र सरकार, बिहार सरकार और यूपी सरकार को नोटिस जारी किया है. बिहार से जुड़े मामले में सुप्रीम कोर्ट ने चिंता जाहिर की है और तीन मुद्दों पर जवाब मांगा है. मालूम हो कि इंसेफेलाटिस बुखार से अब तक 169 बच्चों की मौत हो चुकी है.                                                                                                                              जे.पी.चंद्रा की रिपोर्ट 

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.