By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

शहीद विजय सोरेंग के परिजनों का अपमान कर रही सरकार : सुबोधकांत

उग्रवादियों के लिए 25 लाख और शहीद के परिजनों को मात्र 10 लाख क्यों? 

- sponsored -

पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता सुबोधकांत सहाय ने पुलवामा के आतंकी हमले में शहीद झारखंड के सपूत विजय कुमार सोरेंग के परिजनों के साथ सौतेला सलूक का आरोप लगाया है।

Below Featured Image

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव, रांची: पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता सुबोधकांत सहाय ने पुलवामा के आतंकी हमले में शहीद झारखंड के सपूत विजय कुमार सोरेंग के परिजनों के साथ सौतेला सलूक का आरोप लगाया है। उन्होंने मुख्यमंत्री रघुवर दास से सीधा सवाल किया है कि यह आपकी कैसी पॉलिसी है कि एक तरफ दुर्दांत उग्रवादियों का सरेंडर कराने पर आप उन्हें 15 से 25 लाख रुपये तक देते हैं तो दूसरी तरफ देश के लिए शहादत देने वाले के परिजनों के लिए मात्र 10 लाख रुपये? यह शहादत का सम्मान नहीं अपमान है। सहाय ने कहा कि मोमेंटम झारखंड में हाथी उड़ाने के नाम पर करोड़ों फूंक दिये जाते हैं, इश्तेहारों में चेहरा चमकाने पर चार साल में 323 करोड़ की राशि खर्च कर दी जाती है, मूर्ति लगाने पर मोटी रकम खर्च कर दी जाती है और शहीद के परिजनों के लिए यह सरकार इतनी रकम भी नहीं निकाल पाती कि उनका सम्मानपूर्वक जीवन यापन हो सके। सहाय ने कहा कि पुलवामा की दुखद घटना के बाद केंद्र से राज्य तक सत्तासीन भाजपा के नेता शहीदों के नाम पर कसमें खा रहे हैं, लेकिन हकीकत में इस प्रकरण में उनका संवेदनहीन चेहरा सामने आ गया है। मुख्यमंत्री रघुवर दास को कम से कम दूसरे राज्यों का अनुकरण करते हुए शहीद विजय सोरेंग के परिजनों के लिए कम से कम 50 लाख रुपये की सम्मान राशि स्वी.त करनी चाहिए। यह शहीद के परिजनों के लिए अनुग्रह नहीं होगा, बल्कि ऐसा करने से सरकार स्वयं अनुग्रहित होगी।

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.