By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

गरम है ‘पहलवान’ का पारा-‘बोलना सीखें तेजस्वी, बिहार में पैंतरा मारते फिर रहे हैं’

Above Post Content

- sponsored -

जेडीयू नेता ददन पहलवान तेजस्वी यादव के एक बयान से बेहद नाराज हैं और उन्हें बोलना सीखने की नसीहत दे दी है। तेजस्वी यादव द्वारा वोटकटवा कहे जाने से नाराज ददन पहलवान ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस की और लालू यादव और तेजस्वी यादव पर जमकर भड़ास निकाली।

Below Featured Image

-sponsored-

गरम है ‘पहलवान’ का पारा-‘बोलना सीखें तेजस्वी, बिहार में पैंतरा मारते फिर रहे हैं’

सिटी पोस्ट लाइवः जेडीयू नेता ददन पहलवान तेजस्वी यादव के एक बयान से बेहद नाराज हैं और उन्हें बोलना सीखने की नसीहत दे दी है। तेजस्वी यादव द्वारा वोटकटवा कहे जाने से नाराज ददन पहलवान ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस की और लालू यादव और तेजस्वी यादव पर जमकर भड़ास निकाली। ददन पहलवान ने कहा कि तेजस्वी यादव लगातार अपनी चुनावी सभाओं में मुझे वोटकटवा कह रहे हैं, उन्हें बोलना सीखना चाहिए, वे कम पढ़े लिखे हैं और उनसे बेहतर मेरा बेटा बोल सकता है, वो उनसे ज्यादा पढ़ा लिखा है। ददन पहलवान ने लालू को भी अपने निशाने पर लिया और कहा कि लालू यादव यादवों का नेता बने फिरते हैं जबकि राजीव प्रताप रूड़ी से चुनाव हार चुके हैं।

वे रणवीर सेना के संरक्षक रहे हें। उन्होंने कहा कि बिहार में जब राबड़ी देवी की सरकार थी तब उस सरकार में मैं भी मंत्री था। तब गोपालगंज और सीवान में 11 यादवों की हत्या हुई और राबड़ी सरकार कुछ नहीं कर पायी। उन्होंने कहा कि लालू यादव अपने कर्मों की वजह से जेल में गये हैं। लालू को जेल भिजवाने में शिवानंद तिवारी ने बड़ी भूमिका निभाई। जिस लालू यादव ने देवगौड़ा को प्रधानमंत्री बनाया वही देवगौड़ा ने लालू को जेल भेजा। तेजस्वी और लालू परिवार यह कहता है कि उन्हें नीतीश कुमार और पीएम मोदी ने जेल भेजा है अगर कोई ऐसा साबित कर दे तो मैं राजनीति से सन्यास ले लूंगी।

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.