By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

डीजीपी के बयान पर तेजस्वी का ट्वीट-‘मैंने तो पहले हीं कहा था, बिकते हैं बिहार के थाने’

;

- sponsored -

अपने हीं पुलिस महकमें पर उठाये गये बिहार के डीजीपी के सवालों ने न सिर्फ पुलिस महकमें के लिए बल्कि सरकार के लिए फजीहत जैसी स्थिति पैदा कर दी है। डीजीपी के बयान पर राजनीति का पारा गरमा गया है। बिहार की कानून व्यवस्था को लेकर बिहार सरकार पर पहले से हमलावर विपक्ष को डीजीपी के इस बयान के बाद नया मुद्दा मिल गया है

-sponsored-

-sponsored-

डीजीपी के बयान पर तेजस्वी का ट्वीट-‘मैंने तो पहले हीं कहा था, बिकते हैं बिहार के थाने’

सिटी पोस्ट लाइवः अपने हीं पुलिस महकमें पर उठाये गये बिहार के डीजीपी के सवालों ने न सिर्फ पुलिस महकमें के लिए बल्कि सरकार के लिए फजीहत जैसी स्थिति पैदा कर दी है। डीजीपी के बयान पर राजनीति का पारा गरमा गया है। बिहार की कानून व्यवस्था को लेकर बिहार सरकार पर पहले से हमलावर विपक्ष को डीजीपी के इस बयान के बाद नया मुद्दा मिल गया है लिहाजा विपक्ष ने अपने हमलों की धार तेज कर दी है। बिहार की प्रमुख विपक्षी पार्टी राजद के नेता तेजस्वी यादव ने एक बार फिर बिहार में कानून व्यवस्था की स्थिति को लेकर सरकार और पुलिस महकमें पर निशाना साधा है। तेजस्वी ने ट्वीट कर लिखा कि-‘बिहार के डीजीपी ने अपने हीं पुलिस महकमे की कार्यशैली पर सवाल उठाये हैं, एक तरह से उन्होंने मेरे आरोपों पर मुहर लगा दी है, मैं पहले हीं कहता रहा हूं कि बिहार के थाने बिकते हैं, उनकी बोली लगती है।’

तेजस्वी यादव के इस ट्वीट के बाद राजनीति गरमा सकती है, वार का पलटवार सामने आया तो बिहार की सियासत की तपिश तेज होगी। लेकिन फिलहाल इस बात के संकेत साफ हैं कि बिहार में कानून व्यवस्था की स्थिति और रोज होती आपराधिक वारदातों ने एक तरह विपक्ष की मुश्किलें आसान कर दी है। चुनावी मौसम में सरकार को घेरने के लिए उन्हे रोज नये मुद्दे मिल जा रहे हैं और उसे विपक्षी पार्टियां भुना भी रही है।

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.