By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

थाने में दर्ज नहीं हुई IAS की FIR तो बिगड़े जीतन राम मांझी, सरकार से पूछे सवाल

HTML Code here
;

- sponsored -

बिहार के सीनियर आईएएस सुधीर कुमार (IAS Sudhir Kumar) का FIR दर्ज नहीं होने को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी काफी नाराज हैं. सुधीर कुमार के SC-ST थाने में घंटो खड़े रहने के बाद भी मामला दर्ज नहीं होने पर जीतन राम मांझी सुधीर कुमार के समर्थन में उतर गए हैं.

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : बिहार के सीनियर आईएएस सुधीर कुमार (IAS Sudhir Kumar) का FIR दर्ज नहीं होने को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी काफी नाराज हैं. सुधीर कुमार के SC-ST थाने में घंटो खड़े रहने के बाद भी मामला दर्ज नहीं होने पर जीतन राम मांझी सुधीर कुमार के समर्थन में उतर गए हैं. मांझी ने FIR दर्ज नहीं होने पर सवाल खड़ा किया है.जीतन राम मांझी ने कहा कि चाहे दलित हो या कोई सामान्य व्यक्ति, अपनी समस्याओ को लेकर थाने में जाता है तो मामला दर्ज होना ही चाहिए. जांच के बाद पता चलेगा कि मामला सही है या गलत लेकिन FIR दर्ज नहीं करना बेहद खेदजनक है. हर व्यक्ति का FIR दर्ज करना थाने का फर्ज है.

गौरतलब है कि सुधीर कुमार द्वारा दिए गए आवेदन के तीन दिन हो जाने के बाद भी FIR दर्ज नही हुआ है. ऐसे मेंसुधीर कुमार के FIR दर्ज नहीं होने पर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने भी सरकार पर सवाल खड़े किए थे. तेजस्वी ने अधिकारियों पर आरोप लगाते हुए कहा था कि अधिकारियों को बचाने की कोशिश की जा रही है.गौरतलब है कि सुधीर कुमार मुख्यमंत्री और कुछ बड़े अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज कराना चाहते हैं.FIR दर्ज नहीं होने को लेकर सरकार विपक्ष के निशाने पर तो थी ही अब जीतन राम मांझी के सुधीर कुमार के समर्थन में खुलकर आ जाने से सरकार का संकट और भी बढ़ गया है.

ये पहलीबार नहीं हुआ है जब जीतन राम मांझी ने अपनी ही सरकार को कटघरे में खड़ा किया है.मांझी कईबार सरकार की नीतियों का विरोध कर चुके हैं.पेट्रोल-डीजल और खाद्य पदार्थों की बढ़ी कीमतों को लेकर भी मांझी विपक्ष की तरह केंद्र सरकार पर सवाल खड़े कर रहे हैं. एनडीए के एक घटक दल होने और सरकार में शामिल होने के वावजूद पार्टी के प्रमुख जीतन राम मांझी ने महंगाई को लेकर सवाल उठाया है. मांझी ने कहा कि पेट्रोल डीजल के बढ़ी कीमतों के कारण सामान के भी दाम लगातार बढ़ गए हैं. केंद्र सरकार को इस पर सोचना चाहिए. बिहार सरकार को भी सलाह देते हुए मांझी ने कहा कि सीएम नीतीश कुमार महंगाई को लेकर चिंतित है ऐसे में टैक्स को कम कर महंगाई पर काबू करने की कोशिश राज्य सरकार को करना चाहिए.

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.