By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

जन अधिकार पार्टी(लो.) ने किया केन्द्रीय और राज्य संसदीय बोर्ड का गठन

सीएम का चेहरा सामने रखकर चुनाव लड़ेगी जाप : पप्पू यादव

HTML Code here
;

- sponsored -

जन अधिकार पार्टी ने आज केन्द्रीय संसदीय बोर्ड और राज्य संसदीय बोर्ड का गठन किया. पप्पू यादव ने पूर्व विधायक अजय कुमार बुलगानीन की अध्यक्षता में केंद्रीय संसदीय बोर्ड के सदस्यों की घोषणा की. इसमें एज़ाज अहमद सचिव, राजेश रंजन उर्फ़ पप्पू यादव और अखलाक यादव पदेन सदस्य है.

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : जन अधिकार पार्टी ने आज केन्द्रीय संसदीय बोर्ड और राज्य संसदीय बोर्ड का गठन किया. पप्पू यादव ने पूर्व विधायक अजय कुमार बुलगानीन की अध्यक्षता में केंद्रीय संसदीय बोर्ड के सदस्यों की घोषणा की. इसमें एज़ाज अहमद सचिव, राजेश रंजन उर्फ़ पप्पू यादव और अखलाक यादव पदेन सदस्य है. अन्य सदस्यों में रामचन्द्र यादव, प्रेमचंद सिंह, ललित शर्मा, अकबर अली परवेज , दानिस खान, विनोद सिंह निषाद, राजेन्द्र राम, हरे राम, विकास तहेडीया , उत्तम कुमार सिंह शामिल हैं. पटना विश्वविद्यालय के रसायनशास्त्र विभाग के अध्यक्ष प्रोफेसर अभय कुमार की अध्यक्षता में राज्य संसदीय बोर्ड के सदस्यों की भी घोषणा की. इसमें अवधेश कुमार लालू को सचिव बनाया गया है. जबकि रघुपति सिंह, राघवेन्द्र सिंह कुशवाहा, उमैर खान पदेन सदस्य है. अन्य सदस्यों में प्रोफेसर अली मोहम्मद, मुक्तेश्वर सिंह, अकबर अली, गोपाल प्रसाद यादव, जी.एन. झा, कमलेश तिवारी, गुलफिशां जबी और अनिल कुमार शामिल हैं.

पप्पू यादव ने बाल्मीकि नगर उपचुनाव लड़ने की घोषणा की और कहा कि 15 से 20 सितम्बर के बीच जाप अपने मुख्यमंत्री के उम्मीदवार की घोषणा करेगी. मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा या दलित वर्ग से होंगे और उपमुख्यमंत्री अल्पसंख्यक वर्ग से होंगे. साथ ही उन्होंने कहा कि एक 5 सदस्यीय समितियां सामान्य विचारधारा वाले पार्टियों से गठबंधन के संबंध में बात करेगी. इस कमिटी में पूर्व मंत्री सह राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष अखलाक़ अहमद, राष्ट्रीय प्रधान महासचिव एज़ाज अहमद, पूर्व विधायक सह राष्ट्रीय महासचिव रामचंद्र सिंह यादव, प्रदेश अध्यक्ष रघुपति सिंह और प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष राघवेन्द्र सिंह कुशवाहा हैं. पप्पू यादव ने कहा कि पहले होता था गरीबी हटाओ लेकिन अब हो गया है गरीबी बढ़ाओ. बिहार के गरीब लोग बाहर जा रहे हैं लेकिन नीतीश कुमार मस्त है. उनको मजदूरों की कोई चिंता नहीं है

पप्पू यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री मन की बात करते हैं लेकिन जनता के दिल की बात नहीं सुनते. जब कोरोना वायरस के मामले 50 से भी कम थे तब पूरे देश में लॉकडाउन लागू कर दिया गया. जब मामले 36 लाख से अधिक और औसत मृत्यु दर 850 से अधिक हो चुकी है तो सब कुछ क्यों खोला जा रहा है? दुनिया में सबसे अधिक मामले भारत में आ रहे है. फिर भी कोरोना पर कोई चर्चा नहीं हो रही है. प्रेस कांफ्रेंस को प्रदेश अध्यक्ष रघुपति जी, कार्यकारी अध्यक्ष राघवेन्द्र सिंह कुशवाहा , प्रधान राष्ट्रीय महासचीव एजाज अहमद और राष्ट्रीय अतिपिछडा प्रकोष्ठ के अध्यक्ष हरेराम महतो ने सम्बोधित किया . रालोसपा के प्रदेश महासचिव गंगा राय , बाबर खान , अजहर खान, विवेक कुमार , मदन मोहन ,विकास सिंह,, सुधीर कुमार सहित सैकड़ो लोंगों ने जाप की सदयता ग्रहण की .

HTML Code here
;

-sponsered-

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.