By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

गिरिराज सिंह से जेडीयू का सवाल-‘ पीएम मोदी जितवाते हैं चुनाव तो नीतीश के पास काहे आये थे?’

;

- sponsored -

गिरिराज सिंह ने आज अपने ताबड़तोड़ ट्वीट के जरिए बिहार की राजनीति में भूचाल ला दिया है। अपने पहले ट्वीट में उन्होंने बिहार में एनआरसी को वोट के चश्मे से न देखे जाने की नसीहत दी। अपने दूसरे ट्वीट में गिरिराज सिंह ने लिखा है कि 2019 का लोकसभा चुनाव पीएम मोदी के चेहरे पर लड़ा गया और उसी बदौलत बिहार में एनडीए को 39 सीटें आयी।

-sponsored-

-sponsored-

गिरिराज सिंह से जेडीयू का सवाल-‘ पीएम मोदी जितवाते हैं चुनाव तो नीतीश के पास काहे आये थे?’

सिटी पोस्ट लाइवः गिरिराज सिंह ने आज अपने ताबड़तोड़ ट्वीट के जरिए बिहार की राजनीति में भूचाल ला दिया है। अपने पहले ट्वीट में उन्होंने बिहार में एनआरसी को वोट के चश्मे से न देखे जाने की नसीहत दी। अपने दूसरे ट्वीट में गिरिराज सिंह ने लिखा है कि 2019 का लोकसभा चुनाव पीएम मोदी के चेहरे पर लड़ा गया और उसी बदौलत बिहार में एनडीए को 39 सीटें आयी। जाहिर है इशारांे-इशारों में गिरिराज सिंह ने यह कह दिया कि 2019 के लोकसभा चुनाव में जेडीयू को जो 16 सीटें मिली है वो पीएम मोदी के नाम पर मिली है। गिरिराज सिंह को अब जेडीयू ने जवाब दिया है।

जेडीयू ने गिरिराज सिंह से यह सवाल पूछा है कि अगर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हीं चुनाव जितवाते हैं तो गिरिराज सिंह नीतीश कुमार के पास क्यों आए थे। गिरिराज सिंह ने सीएम से सद्भावना मुलाकात की थी और उनसे आग्रह किया था कि आप हमारे लिए प्रचार कीजिए। सिटी पोस्ट लाइव से बातचीत करते हुए जेडीयू प्रवक्ता राजीव रंजन ने कहा कि प्रधानमंत्री की लोकप्रियता पर किसी को संदेह नहीं है। उनके कार्यकाल की उपलब्धियों के कारण जनता के हृदय में उनके लिए विशेष स्थान है लेकिन गिरिराज सिंह को ऐसी क्या जरूरत पड़ी कि चुनाव लड़ने से पहले उन्हें नीतीश कुमार से सद्भावना भेंट करनी पड़ी। उनसे आग्रह करना पड़ा कि आप हमारे क्षेत्र में आईए और नीतीश कुमार ने उनके लिए प्रचार किया।

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

जब कोई गठबंधन होता है तो इतना एकतरफा किसी चुनाव के परिणाम का विश्लेषण नहीं किया जाता। नीतीश कुमार के कार्यकाल में बिहार के लिए जो उपलब्ध्यिां दर्ज हुई है उससे बिहार को राष्ट्रीय मानचित्र पर सम्मानजनक स्थान मिला है। गिरिराज सिंह को जनता की भावना का सम्मान करना चाहिए।

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.