By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

झारखण्ड चुनाव: कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच जारी है दुसरे चरण का मतदान.

;

- sponsored -

झारखण्ड चुनाव: कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच जारी है दुसरे चरण का मतदान.दूसरे चरण में जिन 20 सीटो के लिए आज वोटिंग हो रहा है उसमे से 17 सीटें आरक्षित हैं जबकि 15 सीटें नक्सलवाद प्रभावित हैं. नक्सल प्रभावित व ग्रामीण क्षेत्रों में सुबह 7 बजे से शाम 3 बजे तक मतदान होगा. शहरी क्षेत्रों में दो घंटे देर तक यानी शाम 5 बजे तक वोट डाले जाएंगे. सात जिलों में फैले इन विधानसभा क्षेत्रों में 260 प्रत्याशी मैदान में हैं जिनके भाग्य का फैसला 48 लाख 25 हजार मतदाता करेंगे.

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

झारखण्ड चुनाव: कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच जारी है दुसरे चरण का मतदान.

सिटी पोस्ट लाइव :आज सुबह सात बजे से  झारखंड विधानसभा चुनाव के दुसरे चरण के लिए वोटिंग जारी है. इस चरण में प्रदेश की सबसे महत्वपूर्ण सीट पूर्वी जमशेदपुर भी शामिल है. इस सीट से सीएम रघुवर दास और बीजेपी के बागी बने रघुवर दास के कैबिनेट में मंत्री रहे वरिष्ठ नेता रहे सरयू राय चुनाव मैदान में है.इस सीट पर रघुवर दास और सरयू राय के बीच सीधा मुकाबला है.कांग्रेस के प्रत्याशी तीसरे नंबर पर हैं.

दूसरे चरण में जिन 20 सीटो के लिए आज वोटिंग हो रहा है उसमे से 17 सीटें आरक्षित हैं जबकि 15 सीटें नक्सलवाद प्रभावित हैं. नक्सल प्रभावित व ग्रामीण क्षेत्रों में सुबह 7 बजे से शाम 3 बजे तक मतदान होगा. शहरी क्षेत्रों में दो घंटे देर तक यानी शाम 5 बजे तक वोट डाले जाएंगे. सात जिलों में फैले इन विधानसभा क्षेत्रों में 260 प्रत्याशी मैदान में हैं जिनके भाग्य का फैसला 48 लाख 25 हजार मतदाता करेंगे.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

 सत्ता की दावेदारी तय करने वाले इस चरण में मुख्यमंत्री, विधानसभा अध्यक्ष, बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष, प्रदेश के मंत्री और पूर्व मंत्री समेत दर्जनभर दिग्गज भाग्य आजमा रहे हैं. इन सीटों पर मतदान के लिए कुल 6066 मतदान केंद्र बनाए गए .इनमें1,711 बूथों को अति संवेदनशील और 2,767 बूथों को संवेदनशील घोषित किया गया है. यहां सुरक्षा के तगड़े इंतजाम किए गए हैं. इस चरण में नौ विधानसभा सीटें ऐसी हैं जहां महिला मतदाताओं की संख्या पुरुषों से ज्यादा .

मुख्य निर्वाचन अधिकारी विनय कुमार चौबे के अनुसार  मतदाताओं को डराने-धमकाने से रोकने के लिए सुरक्षा बलों की नियमित पैट्रोलिंग की जाएगी.नक्सलियों के पोल बायकाट को ध्यान में रखते हुए गावं गावं में सुरक्षा बालों को तैनात किया गया है ताकि कोई किसी को मतदान केंद्र तक जाने से रोक ना सके.निष्पक्ष और भयमुक्त मतदान के लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं.

;

-sponsored-

Comments are closed.