By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

काला झंडा दिखाने पर कन्हैया कुमार के समर्थक भड़के, लोगों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा

- sponsored -

कन्हैया कुमार  इस लड़ाई को कन्हैया बनाम गिरिराज बनाने के लिए ऐड़ी-छोटी का जोर लगाए हुए हैं.आये दिन कन्हैया कुमार और गिरिराज सिंह के समर्थकों के बीच झड़प की घटनाएं हो रही है. ताजा मामला रविवार का है जहां कन्हैया के समर्थकों ने अपने विरोधियों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा.

काला झंडा दिखाने पर कन्हैया कुमार के समर्थक भड़के, लोगों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा

सिटी पोस्ट लाइव : बिहार के बेगूसराय में लोक सभा चुनाव के CPI के उम्मीदवार कन्हैया कुमार का चुनाव प्रचार जोरशोर से चल रहा है. यहाँ से मुकाबला महागठबंधन के उम्मीदवार तनवीर हसन और बीजेपी के गिरिराज सिंह के बीच है. लेकिन कन्हैया कुमार  इस लड़ाई को कन्हैया बनाम गिरिराज बनाने के लिए ऐड़ी-छोटी का जोर लगाए हुए हैं.आये दिन कन्हैया कुमार और गिरिराज सिंह के समर्थकों के बीच झड़प की घटनाएं हो रही है. ताजा मामला रविवार का है जहां कन्हैया के समर्थकों ने अपने विरोधियों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा.

गढ़पुरा थाना क्षेत्र के सुजानपुर कोरैय गांव में जब सीपीआई उम्मीदवार कन्हैया कुमार के रोड शो के दौरान ग्रामीण युवकों ने उनके काफिले को काला झंडा दिखाया तो कन्हैया के समर्थक भड़क गए. जब विरोध करने वाले लोगों ने उनसे सवाल-जवाब करने की भी कोशिश की तो कन्हैया के समर्थक उग्र हो गए और झंडा दिखा रहे युवकों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटना शुरू कर दिया.

Also Read

-sponsored-

युवकों ने घर में घुसकर अपनी जान बचाने की कोशिश की लेकिन कन्हैया के समर्थक उन्हें वहां भी कहाँ छोड़नेवाले थे. घरों में घुस घुसकर उन्हें पिटा . मौके वारदात पर खबर पाकर पहुंची पुलिस ने किसी तरह मामले को शांत कराया. मालूम हो कि बेगूसराय में दोनों दलों के कार्यकर्ता चुनाव प्रचार में जोर शोर से लगे हैं और अपनी जीत के दावे लगातार कर रहे हैं. इससे पहले भी कन्हैया कुमार को प्रचार के दौरान कुछ जगहों पर विरोध का सामना करना पड़ा था और लोगों ने उनसे आजादी और जातिगत आरक्षण का विरोध करने को लेकस सवाल खड़े किए थे.

लेकिन सवाल ये है कि विरोध करनेवालों की इस तरह से दौड़ा दौड़कर पिटाई करने से कन्हैया कुमार को इतना फायदा मिलेगा और कितना नुकशान होगा. गौरतलब है कि कन्हैया के विरोधी लोगों को बेगूसराय में फिर से वामपंथ की वापसी के साथ गुंडागर्दी की शुरुवात का भय दिखा रहे हैं.

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.