By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

नीतीश सरकार के मंत्री आ गये मदन सहनी के साथ, CM के खिलाफ कह दी ये बड़ी बात

HTML Code here
;

- sponsored -

बिहार सरकार के समाज कल्याण मंत्री मदन सहनी के इस्तीफे की पेशकश के बाद से बिहार की सियासत में उबाल आ गया है। फिलहाल मंत्री दिल्ली में हैं और उनके आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव से मिलने की चर्चा है हालांकि उन्होंने इस तरह की बातों को बेबुनियाद बताते हुए नीतीश कुमार में पूरी आस्था जतायी है।लेकिन इस बीच मंत्री मदन सहनी के समर्थन में बीजेपी कोटे के एक मंत्री सामने आ गये है। सीएम नीतीश कुमार को ही उन्होंने नसीहत दे डाली है।

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : बिहार सरकार के समाज कल्याण मंत्री मदन सहनी के इस्तीफे की पेशकश के बाद से बिहार की सियासत में उबाल आ गया है। फिलहाल मंत्री दिल्ली में हैं और उनके आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव से मिलने की चर्चा है हालांकि उन्होंने इस तरह की बातों को बेबुनियाद बताते हुए नीतीश कुमार में पूरी आस्था जतायी है।लेकिन इस बीच मंत्री मदन सहनी के समर्थन में बीजेपी कोटे के एक मंत्री सामने आ गये है। सीएम नीतीश कुमार को ही उन्होंने नसीहत दे डाली है।

बिहार सरकार के वन पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन विभाग के मंत्री नीरज कुमार बबलू ने मंत्री मदन सहनी के समर्थन करते हुए कहा कि जब बात बाहर आ गई तो मुख्‍यमंत्री को इस पर तुरंत संज्ञान लेना चाहिए था। नीरज कुमार ने कहा कि मंत्री को भी चाहिए था कि वे मुख्‍यमंत्री से मिलकर अपनी बातें रखते। काम का निर्णय मंत्री करते हैं। जनता के बीच मंत्री को जाना पड़ता है। सरकार चलाने का काम मंत्रियों का है। सरकार की योजनाओं की जानकारी देना भी उन्‍हीं के अधिकार क्षेत्र में है। अधिकारियों को बयानबाजी से बचना चाहिए।वहीं ये पूछे जाने पर कि क्‍या उन्‍होंने भी कभी अफसरशाही झेली है। मंत्री नीरज कुमार बबलू ने कहा कि हर जगह कुछ न कुछ परेशानी है। लेकिन हम ऐसी परेशानी से लड़ लेते हैं। जो भी गलतफहमी है, उसे दूर करना चाहिए।

गौरतलब है कि इससे पहले बीजेपी कोटे के ही मंत्री जीवेश मिश्रा के बयानों पर मंत्री मदन सहनी ने कड़ी आपत्ति जताई थी। जीवेश मिश्रा ने कहा था कि वे नहीं मानते कि कहीं अफसरशाही है। अफसरों से तालमेल बिठाने की सलाह उन्‍होंने दी। इस पर मदन सहनी ने कहा कि वे दलाल नहीं हैं कि तालमेल बिठाएं। साथ ही उन्‍होंने मंत्री को अपनी सीमा में रहने की हिदायत दे दी थी।

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.