By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

मोकामा रिमांड होम मामलाः फूल रहे थे सरकार के हाथ-पांव, पुलिस के एक्शन ने मुश्किल से उबारा

Above Post Content

- sponsored -

अपराधियों के मंसूबों पर पानी फेरने के लिए कमर कस चुकी बिहार पुलिस के एक्शन का असर दिख रहा है। हांलाकि अपराध और अपराधियों पर बिल्कुल लगाम लग चुकी हो ऐसा बिल्कुल नहीं है लेकिन कल जिस तरह से मोकामा रिमांड होम से 7 लड़कियों के गायब होने की खबर आयी उससे सरकार के हाथ पांव फुलने लगे थे क्योंकि जो 7 लड़कियां गायब थी उनमें से 5 लड़कियां मुजफ्फरपुर के बहुचर्चित बालिका गृहकांड की पीड़िता भी थी और प्रमुख गवाह भी थी।

Below Featured Image

-sponsored-

मोकामा रिमांड होम मामलाः फूल रहे थे सरकार के हाथ-पांव, पुलिस के एक्शन ने मुश्किल से उबारा

सिटी पोस्ट लाइवः अपराधियों के मंसूबों पर पानी फेरने के लिए कमर कस चुकी बिहार पुलिस के एक्शन का असर दिख रहा है। हांलाकि अपराध और अपराधियों पर बिल्कुल लगाम लग चुकी हो ऐसा बिल्कुल नहीं है लेकिन कल जिस तरह से मोकामा रिमांड होम से 7 लड़कियों के गायब होने की खबर आयी उससे सरकार के हाथ पांव फुलने लगे थे क्योंकि जो 7 लड़कियां गायब थी उनमें से 5 लड़कियां मुजफ्फरपुर के बहुचर्चित बालिका गृहकांड की पीड़िता भी थी और प्रमुख गवाह भी थी। जाहिर है इस मामले के सामने आने के बाद सरकार और पुलिस महकमे में हलचल तेज हो गयी थी क्योंकि इस मामले को लेकर न सिर्फ बिहार की विपक्षी पार्टियां सरकार पर हमलावर रही हैं बल्कि सुप्रीम कोर्ट कई बार बिहार सरकार और बिहार की पुलिस को फटकार लगा चुका है।

वेसे में पुलिस ने एक्शन दिखाया और पुलिस की डीजी टीम ने 7 में 6 लड़कियांे को दरभंगा के एक गांव से बरामद कर लिया। पुलिस की यह कामयाबी बड़ी है क्योंकि बिहार पुलिस ने मुजफ्फरपुर बालिका गृहकांड मामले की गायब पीड़िताओं और गवाहों को महज 12 घंटों के भीतर बरामद कर लिया जाहिर है सरकार के लिए यह बड़ी राहत की खबर थी पुलिस को अगर यह कामयाबी नहीं मिलती तो सरकार की फजीहत इस मामले को लेकर और बढ़ जाती लिहाजा सरकार को बड़ी राहत मिली। कुल मिलाकर बिहार पुलिस ने अपनी मेहनत से सरकार की झोली में एक और कामयाबी डाल दी।

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.