By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

महागठबंधन उम्मीदवारों के लिए वोट मांगेगे मुकेश सहनी, पटना साहिब और पाटलीपुत्रा में करेंगे रोड शो

;

- sponsored -

महागठबंधन के सहयोगी दल विकासशील इंसान पार्टी के मुखिया मुकेश सहनी की भूमिका महागठबंधन में एकाएक बढ़ गयी है। सातवें चरण के तहत बिहार की आठ लोकसभा सीटो पर होने वाले चुनाव को लेकर सहनी का महत्व महागठबंधन में बढ़ गया है।

-sponsored-

-sponsored-

महागठबंधन उम्मीदवारों के लिए वोट मांगेगे मुकेश सहनी, पटना साहिब और पाटलीपुत्रा में करेंगे रोड शो

सिटी पोस्ट लाइवः महागठबंधन के सहयोगी दल विकासशील इंसान पार्टी के मुखिया मुकेश सहनी की भूमिका महागठबंधन में एकाएक बढ़ गयी है। सातवें चरण के तहत बिहार की आठ लोकसभा सीटो पर होने वाले चुनाव को लेकर सहनी का महत्व महागठबंधन में बढ़ गया है। उनको महागठबंधन के दो दिग्गज उम्मीदवारों के लिए प्रचार की कमान सौंपी गयी है। मुकेश सहनी पटना साहिब से कांग्रेस उम्मीदवार शत्रुध्न सिन्हा और पाटलीपुत्रा सीट से राजद उम्मीदवार मीसा भारती के लिए रोड शो करेंगे। 17 मई को वे पटना में एक रोड शो का आयोजन करेंगे। पटना के गांधी मैदान से उनका यह रोड शो शुरु होगा जो कारगिल चैक, डाक बंगला चैराहा, राजापुर पुल समेत राजधानी के कई इलाकों का भ्रमण करते हुए दानापुर स्टेडियम तक जायेगा।

इस रोड शो उनकी वीआईपी पार्टी के हजारो कार्यकर्ताओं को साथ-साथ बाइक सवार सैकड़ों युवा शामिल होंगे। इस दौरान वे पटना साहिब से कांग्रेसी प्रत्याशी शत्रुघ्न सिन्हा और पाटलीपुत्र से राजद प्रत्याशी मीसा भारती के लिए वोट मांगेगे। सन ऑफ मल्लाह ने कहा कि पटना साहिब से कांग्रेस प्रत्याशी शत्रुघ्न सिन्हा ने अपने अभिनय के बल पर देश और दुनिया में बिहार का नाम रोशन किया है। पूरी दुनिया उन्हें बिहारी बाबू के नाम से जानती है। वहीं राजनीति में भी उनकी अलग पहचान है। हमलोग बिहारी बाबू को भारी मतों से जीताकर दिल्ली भेजने का काम करेंगे।

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

वहीं मीसा भारती को लेकर उन्होने कहा कि मीसा गरीब-गुरबो, पिछ़ड़ों, अति पिछड़ो को आवाज देने और उनके हक की लड़ाई लड़ने वाले लालू प्रसाद की पुत्री हैं। आज लालू को एक साजिश के तहत सलाखों के पीछे डाल दिया गया है। लालू प्रसाद ने अपने साहसिक मनोबल के बल पर वीआईपी को महागठबंधन में शामिल कर निषाद समाज को 3 सीट देकर एकबार फिर साबित किया है पिछड़ों के प्रति उनके अंदर कितना सम्मान है।

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.