By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

अपने हीं मंत्री को नीतीश कुमार ने दे दिया है करारा जवाब-‘बीजेपी ने बुलाया था तब साथ आए’

Above Post Content

- sponsored -

बीजेपी कोटे से बिहार सरकार में मंत्री हैं प्रमोद कुमार। आपको उनका यह बयान याद है न, जब उन्होंने कहा था कि नीतीश कुमार को बीजेपी बुलाने नहीं गयी थी। हांलाकि जब मंत्री जी के इस बयान पर बवाल बढ़ा था तो उन्होंने अपने बयान से यू-टर्न लेना ठीक समझा लेकिन तब तक बयान अपना काम कर गया था।

Below Featured Image

-sponsored-

अपने हीं मंत्री को नीतीश कुमार ने दे दिया है करारा जवाब-‘बीजेपी ने बुलाया था तब साथ आए’

सिटी पोस्ट लाइवः बीजेपी कोटे से बिहार सरकार में मंत्री हैं प्रमोद कुमार। आपको उनका यह बयान याद है न, जब उन्होंने कहा था कि नीतीश कुमार को बीजेपी बुलाने नहीं गयी थी। हांलाकि जब मंत्री जी के इस बयान पर बवाल बढ़ा था तो उन्होंने अपने बयान से यू-टर्न लेना ठीक समझा लेकिन तब तक बयान अपना काम कर गया था। विरोधियों ने हाथों-हाथ मंत्री प्रमोद कुमार के इस बयान को लपका था और भुनाने की कोशिश शुरू कर दी थी। अब नीतीश कुमार ने मंत्री जी को करारा जवाब भी दे दिया है और यह कन्फयूजन भी दूर कर दिया है कि 2017 में महागठबंधन से जब वे अलग हुए और सीएम के पद से इस्तीफा दिया तो बीजेपी के बुलावे पर वे बीजेपी के साथ गये या अपने मन से वे बीजेपी के साथ गये। दरअसल नीतीश कुमार एक निजी टेलीविजन चैनल के मंच से बोल रहे थे।

बिना प्रमोद कुमार का नाम लिए हुए या उस बयान की चर्चा किए हुए उन्होंने कहा कि जब वे महागठबंधन से अलग हुए और इस्तीफा दिया तो बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व की ओर से उनके पास आॅफर आया था तब उन्होंने अपनी पार्टी के नेताओं के साथ बातचीत की और फिर बीजेपी के साथ मिलकर सरकार बनाने पर सहमति बनी। दिलचस्प यह कि जब नीतीश कुमार यह बोल रहे थे तो डिप्टी सीएम और बीजेपी के कद्दावर नेताओं में से एक सुशील मोदी उनके सामने बैठे थे।

Below Post Content Slide 4

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.