By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

‘विपक्ष के सबसे योग्य लीडर हो सकते हैं नीतीश कुमार, मोदी के खिलाफ सबसे कद्दावर चेहरा’

- sponsored -

जन अधिकार पार्टी के संरक्षक और पूर्व सांसद पप्पू यादव ने भी नीतीश कुमार की तारीफ की है। पप्पू यादव ने सीएम नीतीश कुमार को पीएम मोदी के खिलाफ विपक्ष का सबसे सशक्त संभावित चेहरा बताया है।

-sponsored-

‘विपक्ष के सबसे योग्य लीडर हो सकते हैं नीतीश कुमार, मोदी के खिलाफ सबसे कद्दावर चेहरा’

सिटी पोस्ट लाइवः जन अधिकार पार्टी के संरक्षक और पूर्व सांसद पप्पू यादव ने भी नीतीश कुमार की तारीफ की है। पप्पू यादव ने सीएम नीतीश कुमार को पीएम मोदी के खिलाफ विपक्ष का सबसे सशक्त संभावित चेहरा बताया है। सिटी पोस्ट लाइव के एडिटर इन चीफ श्रीकांत प्रत्यूष से बातचीत करते हुए पप्पू यादव ने कहा कि नीतीश कुमार पॉलिटिकल प्राणी हैं, वे 24 घंटे राजनीति करते हैं। मैं ज्योतिषी नहीं जो यह बता सकूं कि वे बीजेपी को छोड़ेंगे या साथ रहेंगे लेकिन मैं नीतीश कुमार के बारे में यह बता सकता हूं कि नीतीश कुमार विचारधारा की राजनीति करते हैं, कर्पूरी ठाकुर, राम मनोहर लोहिया और जयप्रकाश नारायण के राजनीतिक धारा के अनुरूप नीतीश चलते रहे हैं लेकिन नीतीश 15 सालों से मुख्यमंत्री हैं, पटना सबसे प्रदूषित शहर है। विकास नहीं हुआ, हो सकता है दिल्ली का साथ नहीं मिला हो।

उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार के लिए बेहतर मौका था दिल्ली जाने का। वे विपक्ष के नेता हो सकते हैं, आगे भी उनके लिए अवसर है। पप्पू यादव ने कहा कि नीतीश की विचारधारा बीजेपी के विपरीत है। राजनीति में कौन किसके साथ हो यह कहा नहीं जा सकता। नीतीश कुमार की तारीफ करते हुए पप्पू यादव ने कहा नीतीश कुमार ने विवादित मुद्दों पर अपना स्टैंड हमेशा क्लियर रहा है। जो बातें या जो मुद्दें सविंधान को, लोकतंत्र को और देश को नुकसान पहुंचा सकते हैं उन मुद्दों पर नीतीश कुमार ने अपना स्टैंड हमेशा क्लियर रखा है। साथ हीं नीतीश ने ऐसे मुद्दों से कभी समझौता नहीं किया।

Also Read

-sponsored-

पप्पू यादव ने कहा कि बीजेपी ने नीतीश कुमार को सांकेतिक भागीदारी ऑफर कर उनका अपमान किया लेकिन नीतीश कुमार की यही खासियत है कि वे बेबाकी से ऐसी चीजों का विरोध करते हैं और बीजेपी को उन्होंने तुरंत जवाब दिया। बिहार की राजनीति को गंभीरता से समझने की जरूरत है। गोनू झा टाइप राजनीति कर बीजेपी से लड़ाई नहीं लड़ी जा सकती।

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.