By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

मंत्रिमंडल विस्तार पर नीतीश कुमार ने कहा-एनडीए में नहीं है कोई दरार

;

- sponsored -

सिटी पोस्ट लाइव- बिहार में लोकसभा चुनाव के बाद पहली बार अपने मंत्रिमंडल का विस्तार सीएम नीतीश कुमार ने किया. जिसे राज्यपाल लालजी टंडन ने पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. इस मंत्रीमंडल में कुल आठ मंत्रियों को शपथ दिलाई गई. वहीं जेडयू की सहयोगी पार्टी बीजेपी इस नये मंत्रीमंडल में शामिल नहीं हुई. इस संबंध में नीतीश कुमार ने कहा कि एनडीए में कहीं कोई दरार नहीं है. मंत्रिमंडल विस्‍तार को लेकर भाजपा से बातचीत हो चुकी थी. भाजपा ने तय किया कि उनके कोटे का मंत्रिमंडल विस्‍तार आगे किया जायेगा.

-sponsored-

-sponsored-

मंत्रिमंडल विस्तार पर नीतीश कुमार ने कहा- एनडीए में नहीं है कोई दरार

सिटी पोस्ट लाइव- बिहार में लोकसभा चुनाव के बाद पहली बार अपने मंत्रिमंडल का विस्तार सीएम नीतीश कुमार ने किया. जिसे राज्यपाल लालजी टंडन ने पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. इस मंत्रीमंडल में कुल आठ मंत्रियों को शपथ दिलाई गई. वहीं जेडयू की सहयोगी पार्टी बीजेपी इस नये मंत्रीमंडल में शामिल नहीं हुई. इस संबंध में नीतीश कुमार ने कहा कि एनडीए में कहीं कोई दरार नहीं है. मंत्रिमंडल विस्‍तार को लेकर भाजपा से बातचीत हो चुकी थी. भाजपा ने तय किया कि उनके कोटे का मंत्रिमंडल विस्‍तार आगे किया जायेगा.

सीएम नीतीश ने कहा कि रविवार को मंत्रिमंडल विस्‍तार की जरूरत इसलिए थी क्योंकि विधानमंडल का सत्र आने वाला है. इस दौरान कम मंत्री रहने के करण मुश्किल होती. वहीं, बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने ट्वीट कर कहा कि मंत्रिमंडल विस्‍तार को ले कोई विवाद नहीं है. नीतीश कुमार ने भाजपा कोटे के मंत्रिमंडल के खाली पदों को भरने की पेशकश की थी. लेकिन, पार्टी नेतृत्‍व ने फिलहाल इसे टाल दिया है.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

आपको बता दें कि हाल ही में पीएम नरेन्द्र मोदी ने भी केन्द्रीय मंत्रीमंडल का विस्तार किया था लेकिन जेडयू इसमें शामिल नहीं हुई और बोली कि मोदी सरकार को समर्थन जारी रहेगा. वहीं जेडयू नेताओं के बयान भी आयें कि भागीदारी के अनुसार से हमें हिस्सेदारी नहीं दी गई इसलिए हमलोगों ने केवल एक मंत्री पद देने के बीजेपी के निर्णय को अस्वीकार किया.                                                                                                                  जे.पी.चंद्रा की रिपोर्ट 

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.