By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

योगी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होगें नीतीश कुमार, केन्द्रीय नेत्रित्व से मिला न्यौता.

HTML Code here
;

- sponsored -

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : उत्तर प्रदेश में 37 साल बाद बीजेपी की लगातार दुबारा सरकार बनने जा रही है.मुख्यमंत्री के तौर पर योगी आदित्यनाथ 25 मार्च को दूबारा शपथ ग्रहण करने वाले हैं. . योगी आदित्यनाथ के शपथ ग्रहण समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ भाजपा-सहयोगी शासित राज्यों के मुख्यमंत्री-उप मुख्यमंत्री शामिल होंगे. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी शपथग्रण समारोह में शिरकत करेंगे. और उनके साथ बिहार के दोनों उप मुख्यमंत्री तार किशोर प्रसाद और रेणु देवी भी शामिल होगें.

जानकारी के अनुसार बीजेपी शीर्ष नेतृत्व के आमंत्रण पर सीएम नीतीश लखनऊ जाएंगे. मुख्यमंत्री कल दोपहर 12:30 बजे चार्टर्ड प्लेन से पटना से लखनऊ के लिए रवाना होंगे. लखनऊ पहुंचकर वे योगी आदित्यनाथ के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे.बुधवार को हुए बिहार कैबिनेट की बैठक के बाद आपसी बातचीत के दौरान उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के चर्चा के दौरान यह तय हुआ था कि बिहार विधानसभा के बजट सत्र के कारण सिर्फ उपमुख्यमंत्री तार किशोर प्रसाद जाएंगे, लेकिन बीजेपी के बुलावे पर अब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी जाने के लिए तैयार हो गए हैं. उनके साथ दोनों डिप्टी सीएम और बीजेपी के अन्य नेता भी साथ जा सकते हैं.

योगी आदित्यनाथ के शपथ ग्रहण समारोह में नीतीश कुमार के शामिल होने के पीछे का कारण यह माना जा रहा है कि यूपी चुनाव में दोनों दलों के अलग-अलग चुनाव लड़ने को लेकर जिस तरह की दूरी बनी थी, वह भी मिटेगी और राष्ट्रीय स्तर पर बीजेपी और जदयू के गठबंधन की मजबूती दिखाई जा सकेगी. क्योंकि ऐसे कम ही मौके आए हैं जब नीतीश कुमार इस तरह बीजेपी के बुलावे पर किसी दूसरे राज्य के सीएम की ताजपोशी के दौरान शामिल हुए हों.योगी आदित्यनाथ के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने को लेकर उपमुख्यमंत्री तार किशोर प्रसाद ने कहा कि योगी आदित्यनाथ ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने का आग्रह किया है. इसमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ मैं और उपमुख्यमंत्री रेणु देवी दोनों शामिल होंगे. यूपी के लिए यह एक बड़ा आयोजन है क्योंकि एक बड़ी जीत उत्तर प्रदेश से मिली है. हमलोग लोकतंत्र के इस उत्सव के साक्षी बनेंगे. एनडीए में कहीं कोई विवाद नहीं है, विवाद जैसी कोई आशंका भी नहीं है.

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.