By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

नीतीश कुमार की सात निश्चय योजनाओं को मोदी सरकार ने बनाई अपनी फ्लैगशीप योजना

- sponsored -

प्रधानमंत्री के भाषण में बिहार भी छाया रहा.  उन्होंने बिहार में नीतीश सरकार  द्वारा चलाई जा रही हर घर नल जल योजना  का जिक्र नए तरीके से किया और इसे जल मिशन का नाम दिया. पीएम मोदी ने कहा कि जिस तरह देशवासियों ने स्वच्छता के लिए अभियान चलाया, अब समय आ गया है कि पानी को बचाने के लिए भी कुछ ऐसा ही किया जाए. जाहिर है पीएम मोदी के भाषण से ये साफ़ हो गया कि आज भी देश का पथ-प्रदर्शक बिहार ही है.

-sponsored-

नीतीश कुमार की सात निश्चय योजनाओं को मोदी सरकार ने बनाई अपनी फ्लैगशीप योजना

सिटी पोस्ट लाइव : देश आज 73 वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा है. आज हर भारतीय ((Independence day) ) के जश्न में डूबा हुआ है.आज लाल किले से  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  (PM narendra Modi) ने झंडा फहराया और देश के नागरिकों को संबोधित किया. प्रधानमंत्री के भाषण में बिहार भी छाया रहा.  उन्होंने बिहार में नीतीश सरकार  द्वारा चलाई जा रही हर घर नल जल योजना  का जिक्र नए तरीके से किया और इसे जल मिशन का नाम दिया. पीएम मोदी ने कहा कि जिस तरह देशवासियों ने स्वच्छता के लिए अभियान चलाया, अब समय आ गया है कि पानी को बचाने के लिए भी कुछ ऐसा ही किया जाए. पानी को बचाने के लिए हमें 4 गुना रफ्तार से काम करना होगा. हम आने वाले दिनों में जल जीवन मिशन को लेकर आगे बढ़ेंगे. इसके लिए केंद्र और राज्य सरकारें मिलकर काम करेंगे. इसके लिए साढ़े तीन लाख रुपये खर्च करने की योजना बनी है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि  हर घर में जल पहुंचाने के लिए काम करना है पानी के संग्रह के लिए लगातार प्रयास हों. गौरतलब है कि बिहार हर घर जल का नल पहुंचाने की योजना नीतीश सरकार के सात निश्चय का हिस्सा है.  जल संचयन के लिए सीएम नीतीश कुमार के कुओं, पोखर और तालाबों को अतिक्रमण मुक्त करने के साथ ही उनका जीर्णोद्धार किये जाने की चर्चा पुरे देश में हो रही है. आज प्रधानमन्त्री ने भी उसका जिक्र किया.

Also Read

-sponsored-

 बिहार में पहले से प्रतिबंधित प्लास्टिक थैलियों  के लिए प्रधानमंत्री जागरूकता फैलाने के लिए लोगों से आह्वान किया.उन्होंने देश भर के दुकानदारों से अपनी दूकान के बाहर प्लास्टिक की थैलियों के उपयोग नहीं किये जाने के आग्रह वाला बोर्ड लगाने की अपील की.गौरतलब है  कि बिहार ने हाल में ही प्लास्टिक थैलियों के खरीद-बिक्री और उपयोग पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया है.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार में पहले से प्रतिबंधित प्लास्टिक के उपयोग के रोक के लिए पूरे देश में जागरूकता फैलाने की बात कही. उन्होंने प्लास्टिक के प्रतिकूल प्रभावों की बात की और लोगों से प्लास्टिक और निम्न श्रेणी की सामग्री से बनी वस्तुओं का उपयोग न करने की अपील की. उन्होंने दुकानदारों का भी आह्वान किया कि वह अपनी दुकानों पर नो प्लास्टिक बैग्स का बोर्ड लगाएं. बता दें कि बीते दिसंबर से ही बिहार में प्लास्टिक के खरीद-बिक्री और उपयोग पर पूर्ण प्रतिबंध है.

 पीएम मोदी ने जनसंख्या नियंत्रण की बात का भी जिक्र किया. बता दें कि जनसंख्या नियंत्रण का मुद्दा बिहार से आने वाले केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह अक्सर उठाते रहे हैं. उन्होंने जनसंख्या विस्फोट पर चिंता जताते हुए कहा कि हमारे यहां बेतहाशा जो जनसंख्या विस्फोट हो रहा है, यह जनसंख्या विस्फोट हमारी आने वाली पीढ़ियों के लिए अनेक संकट पैदा करता है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि यह बात माननी होगी कि देश में एक जागरूक वर्ग है, जो इस बात को भली भांति समझता है. वह अपने घर में शिशु को जन्म देने से पहले भली भांति सोचता है कि मैं उसके साथ न्याय कर पाऊंगा. स्वयंप्रेरणा से एक छोटा वर्ग परिवार को सीमित करता है अपने परिवार को भी भला करता है, और देश का भी भला करता है. छोटा परिवार को रखकर वह देशभक्ति को अभिव्यक्त करते हैं. ऐसे लोग सम्मान के अधिकारी हैं. इसके लिए सामाजिक जागरूकता की जरूरत है.जाहिर है पीएम मोदी के भाषण से ये साफ़ हो गया कि आज भी देश का पथ-प्रदर्शक बिहार ही है.

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.