By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

“राजनीति विशेष” : नीतीश के मानव श्रृंखला पर विपक्ष हमलावर, चेहरा चमकाने के लिए बहाए जा रहे हैं पैसे

Above Post Content

- sponsored -

जल,जीवन, हरियाली और पर्यावरण बचाने के संकल्प के साथ ही दहेज प्रथा व बाल विवाह,नशामुक्ति जैसी विभिन्न सामाजिक बुराइयों के खिलाफ रविवार 19 जनवरी को बिहार सरकार द्वारा बिहार के सभी जिलों में मानव श्रृंखला बनाने जा रही है ।

Below Featured Image

-sponsored-

“राजनीति विशेष” : नीतीश के मानव श्रृंखला पर विपक्ष हमलावर, चेहरा चमकाने के लिए बहाए जा रहे हैं पैसे

सिटी पोस्ट लाइव : जल,जीवन, हरियाली और पर्यावरण बचाने के संकल्प के साथ ही दहेज प्रथा व बाल विवाह, नशामुक्ति जैसी विभिन्न सामाजिक बुराइयों के खिलाफ रविवार 19 जनवरी को बिहार सरकार द्वारा बिहार के सभी जिलों में मानव श्रृंखला बनाने जा रही है। लेकिनसीएम नीतीश कुमार के आह्वान और उनकी घोषणा पर हो रहे इस आयोजन पर अब ना केवल सियासत तेज हो गई है बल्कि विपक्ष कई तरीकों से नीतीश कुमार पर हमले बोल रहा है। कांग्रेस ने पूरी तरह से अपने कार्यकर्ताओं को इस मानव श्रृंखला में शामिल होने पर पाबंदी लगा दी है। आरजेडी ने तो इसका बहिष्कार करते हुए इसके बहाने सीएम नीतीश पर ओछी राजनीति करने का आरोप लगाया है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रेमचंद्र मिश्रा एलान किया कि मानव श्रृंखला में कोई भी कांग्रेस कार्यकर्ता नहीं जाएगा, क्योंकि यह मानव श्रृंखला पूरी तरह नीतीश कुमार का इवेंट मैनेजमेंट है। उन्होंने यह भी कहा है कि इसमें वही शामिल होगा जो जदयू में जाना चाहता है।

कांग्रेस प्रवक्ता राजेश राठौर ने कहा कि शिक्षकों-छात्रों को परेशान कर,नीतीश कुमार चेहरा चमकाने के लिए मानव श्रृंखला बना रहे हैं ।यह चुनावी साल है, इसलिए ये सारा तामझाम हो रहा है। अगर नीतीश कुमार को हिम्मत होती और उनकी नीयत साफ होती, तो उन्हें हत्या, लूट और बलात्कार जैसी गम्भीर बीमारी पर मानव श्रृंखला बनवाना चाहिए, इसमें बिना बुलाये ही लोग खड़े हो जाते।आरजेड़ी नेता शिवानंद तिवारी ने कहा कि इसके बहाने सीएम नीतीश कुमार विशुद्ध राजनीति कर रहे हैं। ये इमेज बिल्डिंग के अलावा कुछ भी नहीं है। उन्होंने कहा कि अगर बिहार में अपराध और बलात्कार कम होता तो माना जा सकता था कि बिहार में सुशासन है। यह मानव श्रृंखला आपराधिक घटनाओं में लगातार हो रहे इजाफे से ध्यान भटकाने की कोशिश है।

Also Read
Inside Post 3rd Paragraph

-sponsored-

नीतीश कुमार पर तेजस्वी का बड़ा हमला,मानव श्रृंखला के नाम पर,पानी की तरह बहाया जा रहा पैसा

बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री सह राजद नेता तेजस्वी यादव ने सी.एम. नीतीश पर बड़ा हमला कर दिया है। तेजस्वी ने ट्वीटर पर हमला करते हुए,बाढ़ त्रासदी के समय वाला अखबार कटिंग साझा किया है। साथ ही उन्होंने लिखा है कि याद किजीए बिहार में आयी बाढ़ और भ्रष्टाचार जनित पटना के जल जमाव को । लोग त्राहिमाम कर रहे थे। राहत के लिए एक हेलिकॉप्टर तक नीतीश सरकार के पास नहीं था लेकिन इस कार्यक्रम के लिए, करोड़ों रुपए वाली सरकारी फेयर एंड लवली से चेहरा चमकाने की गरज से 15 हेलिकॉप्टर और मुंबई से सिद्धस्त फोटोग्राफर बुलाए जा रहे हैं ।तेजस्वी ने अपने दूसरे ट्वीट में मानव श्रृंखला के नाम पर पैसों को पानी की तरह बहाने का भी आरोप लगाया है ।तेजस्वी ने ट्वीट कर लिखा कि सामाजिक, राजनीतिक भ्रष्टाचार के भीष्म पितामह अपने चेहरे को चमकाने के लिए कोई भी कुकर्म करने पर आमादा हैं ।सिपाही परीक्षा रद्द की गयी,शिक्षकों को समान वेतन नहीं मिल रहा है लेकिन मानव श्रृंखला की नौटंकी पर,पानी की तरह बहाया जा रहा है। यही नहीं अपने तीसरे ट्वीट में तेजस्वी ने भाजपा को अपने डीएनए की जांच करवाने की नसीहत दी है ।उन्होंने लिखा है कि भाजपाईयों को पाकिस्तान से बेपनाह मोहब्बत है ।बात-बात पर पाकिस्तान का जाप करने लगते हैं ।पाकिस्तान तो हमारी पैर की जूती भी नहीं है। उसकी क्या औकात है ?पाकिस्तान को तो सीमांचल वाले ही नेस्तनाबूद कर देंगे ।आपसे ज्यादा भारतीय यहाँ के लोग हैं। अगर कोई शक है तो आप अपने DNA की जाँच करवाइये।

लालू परिवार के निशाने पर हैं नीतीश कुमार, राबड़ी ने मानव श्रृंखला को बताया नौटंकी

बिहार में मानव श्रृंखला को लेकर एक तरफ सीएम नीतीश कुमार ने सारी तैयारियाँ पूरी कर ली है,तो दूसरी तरफ बिहार का सबसे बड़ा सियासी घराना राजद परिवार, लगातार नीतीश पर हमलावर है । जहां राँची जेल से लालू प्रसाद यादव लगातार नीतीश पर हमला कर रहे हैं,वहीँ पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव भी उनपर हमलावर हैं ।राबड़ी देवी ने सीएम नीतीश पर तीखा हमला करते हुए 19 जनवरी को आयोजित होने वाली मानव श्रृंखला को नौटंकी करार दिया है ।राबड़ी देवी ने लिखा है कि “सीएम नीतीश कुमार ने शराबबंदी पर श्रृंखला की थी,तो हमने समर्थन भी किया था ।लेकिन क्या उससे शराब बंद हुई ?नहीं ना ? बाल विवाह और दहेज पर भी करोड़ों खर्च कर मानव शृंखला बनाई ?लेकिन क्या हुआ ?अब सीएम ने इनका जिक्र करना भी छोड़ दिया है ।अब एक और श्रृंखला की नौटंकी ?आखर वे क्यों ग़रीबों का हक खा रहे हैं ?”

तेजप्रताप यादव ने कहा मानव श्रृंखला है नौटंकी, इसमें भाग लेना बड़ा पाप

बिहार विधानसभा चुनाव में अभी लगभग 8 महीनेशेष हैं लेकिन इसे लेकर सियासत गर्म तवे में तब्दील है ।राजद लगातार जदयू पर हमलावर हैं ।लालू परिवार के सभी सदस्य नीतीश कुमार की मानव श्रृंखला पर ऊँगली उठा रहे हैं ।कभी लालू इसे फोटो खिंचवाने का बहाना बताते हैं तो वहीं तेजस्वी इसे फेयर एंड लवली बताते हैं ।राबड़ी देवी ने तो इसे नौटंकी करार दे दिया है ।यही नहीं नीतीश पर हमला करने वालों में तेजप्रताप यादव भी पीछे नहीं हैं ।उन्होंने भी नीतीश कुमार पर हमला करते हुए सीएम को पलटुआ बताया है और उनके मानव श्रृंखला में शामिल होने को पाप बताया है ।उन्होंने ट्वीट कर कहा कि बिहार का गरीब, किसान,युवा लाचार और बेरोजगार हैं ।यह कैसी सुशासन की सरकार है ?अगर हाथ जोड़ने से हरियाली आ जाएगी तो लगे हाथ बेरोजगारी पर मानव श्रृंखला भी बनवा ही दीजिए ।यह पलटूआ बिहार के लिए अभिशाप है ।सरकारी खर्चे से आयोजित इस मानव श्रृंखला की नौटंकी में भाग लेना पाप है । कुल मिलाकर इस मानव श्रृंखला को विपक्ष,नीतीश कुमार के चुनावी अभियान का आगाज बता रहे हैं ।शासन और प्रशासन सभी मिलकर,इस कार्यक्रम को सफल बनाने में लगे हुए है ।शिक्षक स्कूल में बच्चों को पढ़ाने की जगह मानव श्रृंखला में खड़े होने का गुड़ सीखा रहे हैं ।खुले सफे से कहें,तो विपक्ष इस कार्यक्रम को जनता की गाढ़ी कमाई की बर्बादी बता रहे हैं ।नीतीश इस बहाने टूटे हुए लोगों से जुड़ना चाहते हैं ।

पीटीएन मीडिया के मैनेजिंग एडिटर मुकेश कुमार सिंह का समाचार विश्लेषण

Below Post Content Slide 4

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.