By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

सुबह-सुबह पूर्व सीएम जीतन राम मांझी से मिलने पहुंच गये पप्पू यादव, मुलाकात पर चर्चा गरम है

- sponsored -

बिहार में एक तीसरा राजनीतिक मोर्चा बनाने की वकालत करने वाले जन अधिकार पार्टी के संरक्षक और पूर्व सांसद पप्पू यादव आज अचानक सुबह-सुबह बिहार के पूर्व सीएम और हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी से मिलने पहुंच गये। तकरीबन 1 घंटे तक दोनों नेताओं की मुलाकात चली है।

-sponsored-

सुबह-सुबह पूर्व सीएम जीतन राम मांझी से मिलने पहुंच गये पप्पू यादव, मुलाकात पर चर्चा गरम है

सिटी पोस्ट लाइवः बिहार में एक तीसरा राजनीतिक मोर्चा बनाने की वकालत करने वाले जन अधिकार पार्टी के संरक्षक और पूर्व सांसद पप्पू यादव आज अचानक सुबह-सुबह बिहार के पूर्व सीएम और हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी से मिलने पहुंच गये। तकरीबन 1 घंटे तक दोनों नेताओं की मुलाकात चली है। मुलाकात में क्या बात हुई है यह तो बाहर निकलकर नहीं आ पाया है लेकिन पप्पू यादव लगातार बिहार में एक तीसरा राजनीतिक मोर्चा बनाने की बात कह रहे हैं और दूसरी तरफ पूर्व सीएम जीतन राम मांझी भी महागठबंधन से अलग होने के संकेत दे चुके हैं ऐसे में इस मुलाकात को इन्हीं चीजों से जोड़कर देखा जा रहा है

। इस मुलाकात को लेकर बिहार के राजनीतिक गलियारों में चर्चा का बाजार गर्म है।सियासी गलियारे में इस मुलाकात के कई मायने निकाले जा रहे हैं. कहा जा रहा है कि बिहार में तीसरा मोर्चा रूप ले रहा है. पप्पू यादव लगातार इस कवायद में जुटे हैं कि एनडीए और जदयू के साथ ही साथ महागठबंधन का भी विरोध हो. मांझी के साथ पप्पू यादव की मुलाकात बहुत अहम मानी जा रही है. इस मुलाकात के बाद से अब सवाल खड़ा होगा कि एनडीए को छोड़ महागठबंधन में आए जीतनराम मांझी अब किधर जाएंगे.

Also Read

-sponsored-

इससे पहले भी जीतनराम मांझी खुले सुर में कह चुके हैं कि महागठबंधन में उन्हें ठगा गया. सही से सीटों का बंटवारा नहीं किया गया. इसके साथ ही साथ मांझी ने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के नेतृत्व पर भी सवाल खड़े किए थे. उन्होंने साफ तौर पर कहा था कि महागठबंधन में लिए गए कुछ फैसलों की वजह से ही बिहार में हार का सामना करना पड़ा. वहीं मांझी लालू दरबार भी पहुंचे थे लेकिन वहां से खाली हाथ ही लौटना पड़ा.

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.