By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

आज मुजफ्फरपुर से पप्पू यादव करेगें पैदल मार्च, हमलावरों को दी खुली चुनौती

;

- sponsored -

-sponsored-

-sponsored-

आज मुजफ्फरपुर से पप्पू यादव करेगें पैदल मार्च, हमलावरों को दी खुली चुनौती

सिटी पोस्ट लाइव अंजलि श्रीवास्तवा): जाप पार्टी के संरक्षक पप्पू यादव आज उसी मुजफ्फरपुर से बालिका गृह कांड को लेकर पैदल मार्च करगें ,जहाँ उनके ऊपर पिछले सप्ताह जानलेवा हमला हुआ था. पप्पू यादव ने इस हमले के पीछे बालिका गृह कांड के प्रमुख अभियुक्त ब्रजेश ठाकुर के लोगों का हाथ होने का आरोप लगाया है. उन्होंने सिटी पोस्ट लाइव से विशेष बातचीत में कहा कि हमलावर ब्रजेश ठाकुर के गावं के गुंडे थे. सभी शराब के नशे में चूर थे. पप्पू यादव ने कहा कि अगर उस दिन सवर्णों का बंद नहीं होता तो सैकड़ों लोग मारे जाते. पप्पू यादव ने हमलावरों को आज खुली चुनौती दी है. उन्होंने कहा कि आज शुक्रवार को वो दो बजे से अपनी यात्रा की शुरुवात करेगें, अगर दम है तो ब्रजेश ठाकुर के गुंडे इसबार हमला कर दिखा दें.

गौरतलब है कि पप्पू यादव ने अपने ऊपर हमले की शाजिश में मुजफ्फरपुर के एसएसपी हरप्रीत कौर के शामिल होने के अपने आरोप को वापस लेते हुए कहा कि उन्होंने उनके ऊपर हमले को गंभीरता से नहीं लिया. लेकिन पप्पू यादव ने एसएसपी के इस सफाई को गलत बताया कि उन्हें पप्पू यादव के आने की जानकारी नहीं थी. पप्पू यादव ने कहा कि पटना से निकालने के पहले वो डीजीपी और गृह सचिव सबको जानकारी दे चुके थे. उनकी पार्टी दफ्तर से एसएसपी को सूचना भी दी गई थी.लेकिन  पप्पू यादव ने अपने द्वारा एसएसपी के खिलाफ किये गए अभद्र टिपण्णी-“ एसएसपी रात में पत्रकारों को लव लेटर लिखती है”, पर सफाई देते हुए कहा कि उन्होंने हरप्रीत का नाम नहीं लिया था. मेरा हमला किसी महिला पर नहीं बल्कि वहां के एसएसपी पर था. एसएसपी एक पद होता है. वह न महिला होता है और ना ही पुरुष .

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव संवाददाता अंजलि श्रीवास्तवा के अनुसार आज पप्पू यादव के पैदल मार्च का कई जगहों पर विरोध करने की तैयारी है. इस विरोध को लेकर पप्पू यादव को लेकर पप्पू यादव के समर्थकों के साथ हिंसक झड़प हो सकती है. पप्पू यादव पहले ही चेतावनी दे चुके हैं कि अगर इसबार किसी ने उनकी यात्रा में खलल डाली तो वो उसका जबाब वो जरुर देगें.गौरतलब है कि पप्पू यादव के समर्थक बड़े ही आक्रामक होते हैं. एहतियात के तौर पर मुजफ्फरपुर पुलिस अलर्ट है. जगह जगह पर सुबह से ही पुलिस के अधिकारी और जवान तैनात कर दिए गए हैं.

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.