By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

ममता पर निशाना साध रही ‘पीके’ की पार्टी, ‘बंगाल को मिनी पाकिस्तान बनने से रोकिए’

- sponsored -

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी ने कल नीतीश कुमार को धन्यवाद दिया और आज जेडीयू ममता बनर्जी पर हमलावर हो गयी। जेडीयू प्रवक्ता ने ममता बनर्जी से गुजारिश की है कि पश्चिम बंगाल को मिनी पाकिस्तान बनने से रोकिए। जेडीयू ने कल यह घोषणा की थी कि बिहार से बाहर वो एनडीए के साथ नहीं है बल्कि झारखंड, जम्मू, सहित दूसरे राज्यों में अकेले चुनाव लड़ेगी।

-sponsored-

ममता पर निशाना साध रही ‘पीके’ की पार्टी, ‘बंगाल को मिनी पाकिस्तान बनने से रोकिए’

सिटी पोस्ट लाइवः पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी ने कल नीतीश कुमार को धन्यवाद दिया और आज जेडीयू ममता बनर्जी पर हमलावर हो गयी। जेडीयू प्रवक्ता ने ममता बनर्जी से गुजारिश की है कि पश्चिम बंगाल को मिनी पाकिस्तान बनने से रोकिए। जेडीयू ने कल यह घोषणा की थी कि बिहार से बाहर वो एनडीए के साथ नहीं है बल्कि झारखंड, जम्मू, सहित दूसरे राज्यों में अकेले चुनाव लड़ेगी।

ममता बनर्जी ने इस फैसले के लिए बिहार के सीएम और जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार को धन्यवाद कहा था। इसके एक दिन बाद हीं जेडीयू प्रवक्ता अजय आलोक ममता बनर्जी पर हमलावर हो गये। दिलचस्प यह भी है कि जिस जेडीयू के प्रवक्ता अजय आलोक यह कह रहे हैं कि बंगाल मिनी पाकिस्तान हो गया है उसी जेडीयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ममता बनर्जी के लिए रणनीतिकार की भूमिका निभाने जा रहे हैं और पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी की राह आसान करने की कोशिश करेंगे।

Also Read

-sponsored-

जेडीयू प्रवक्ता अजय आलोक ने कहा कि ममता बनर्जी बंगाल को मिनी पाकिस्तान बना रही हैं. उन्होंने दावा किया कि राज्य से बिहारियों को भगाया जा रहा है और वहां लगातार हत्याएं हो रही हैं. आलोक ने ममता दीदी से अपील करते हुए कहा कि वो पश्चिम बंगाल को मिनी पाकिस्तान बनने से रोकें. अजय आलोक का यह बयान ऐसे समय में आया है जब एक दिन पहले ही ममता बनर्जी ने बिहार के मुख्यमंत्री और जेडीयू अध्यक्ष नीतीश कुमार को बधाई और धन्यवाद दिया था. ममता ने सोमवार को कहा था, ‘नीतीश जी के इस बयान पर कि बिहार के बाहर वो (जेडीयू) एनडीए के साथ गठबंधन नहीं करेंगे. इसके लिए मैं उन्हें बधाई देती हूं. उन्हें धन्यवाद है.’

दरअसल, रविवार को पटना में जेडीयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक हुई थी. नीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में फैसला लिया गया था कि जेडीयू चार राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव अकेले लड़ेगी, बीजेपी के साथ नहीं. इनमें झारखंड, हरियाणा, दिल्ली और जम्मू-कश्मीर का चुनाव शामिल है. कार्यकारिणी की इस बैठक में जेडीयू ने ये भी फैसला लिया कि अगर बीजेपी धारा 370 खत्म करती है, तो जेडीयू एनडीए में रहते हुए इसका विरोध करेगी लेकिन गठबंधन से अलग नहीं होगी. बैठक में पार्टी उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर, केसी त्यागी, संजय झा सहित जेडीयू के कई नेता शामिल हुए थे.

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.