By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

पंचायत चुनाव की तारीखों के ऐलान से पहले राजनीतिक हलचल शुरू, पक्ष-विपक्ष में तकरार

HTML Code here
;

- sponsored -

ज़िले के चंडी प्रखंड अंतर्गत तुलसीगढ़ पंचायत के वार्ड नंबर 8 में मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना के तहत कराया गया कार्य स्थानीय राजनीति के कारण विवादों में फंस गया है. आपको बता दें कि वार्ड नंबर 8 में मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना के तहत पंचायत सचिव के द्वारा 10 लाख रुपए में नल जल का काम करवाया गया था.

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : ज़िले के चंडी प्रखंड अंतर्गत तुलसीगढ़ पंचायत के वार्ड नंबर 8 में मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना के तहत कराया गया कार्य स्थानीय राजनीति के कारण विवादों में फंस गया है. आपको बता दें कि वार्ड नंबर 8 में मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना के तहत पंचायत सचिव के द्वारा 10 लाख रुपए में नल जल का काम करवाया गया था. जिसके तहत वार्ड नंबर 8 में एक सरकारी ट्यूबेल भी लगवाया गया. पंचायत सचिव ने मुखिया के ऊपर आरोप लगाते हुए कहा कि हमारे द्वारा 10 लाख का काम करवाया जा चुका है, बावजूद काम करने के एवज में राशि नहीं दी गई है.

पंचायत सचिव आलोक कुमार ने बताया कि शुरुआती काम के दौरान हमें बीडीओ डीपीआरओ के द्वारा आश्वासन दिया गया था कि काम पूरा होने के बाद आपकी पूरी राशि आपके खाते में ट्रांसफर कर दिया जाएगा. इसी आश्वासन के बाद हमने किसी तरह से कर्ज लेकर सात निश्चय के काम को पूरा किया गया. लेकिन डेढ़ साल बीत जाने के वावजूद एक रुपया की राशि अभी तक भुगतान नहीं किया गया. इस वार्ड में पदाधिकारी के द्वारा कई बार जांच भी की गई.

हालांकि जांच का काम फाइलों में ही सिमट कर रहा गया. सरकार की अनदेखी के कारण इसमें अब काफी परेशानी हो रही है. जबकि नलजल का सबसे अच्छा काम इसी वार्ड नम्बर 8 में किया गया है. वहीं, इस संबंध में तुल्सीगढ़ पंचायत के वर्तमान मुखिया ने बताया कि रातोरात क्रियान्वन समिति का गठन बिना किसी को सूचना दिए कर लिया गया. अब राजनीतिक दविश बनाकर इस मामले को तूल दिया जा रहा है.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

इस मामले को पंचायती राज विभाग के प्रधान सचिव से जांच कर रहे हैं, जैसे ही पंचायती राज विभाग के द्वारा जांच का फैसला आ जाएगा. वैसे ही राशि पूरी रकम खाते में ट्रांसफर कर दिया जाएगा. मुख्या चुनाव नजदीक होने के कारण इसे कुछ लोगों के द्वारा राजनीतिक तूल देकर इस मामले को हवा दी जा रही है.

नालंदा से मो. महमूद आलम की रिपोर्ट

HTML Code here
;

-sponsered-

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.