By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

जलजमाव पर सीएम के एक्शन पर उठ रहे सवाल, तेजस्वी ने पूछा-‘क्या बड़े अधिकारियों को बचा रहे हैं’

;

- sponsored -

पटना के जलजमाव पर सीएम नीतीश कुमार अब सख्त हैं। सीएम ने कल हाई लेबल मीटिंग की है और कई अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। सीएम के इस एक्शन पर अब विपक्ष ने सवाल उठाए हैं। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने ट्वीट किया है। तेजस्वी ने नीतीश कुमार से पूछा है कि क्या भ्रष्ट बड़े अधिकारियों को बचाने के लिए छोटे कर्मियों से शो-कॉज पूछ रहे हैं?

-sponsored-

-sponsored-

जलजमाव पर सीएम के एक्शन पर उठ रहे सवाल, तेजस्वी ने पूछा-‘क्या बड़े अधिकारियों को बचा रहे हैं’

सिटी पोस्ट लाइवः पटना के जलजमाव पर सीएम नीतीश कुमार अब सख्त हैं। सीएम ने कल हाई लेबल मीटिंग की है और कई अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। सीएम के इस एक्शन पर अब विपक्ष ने सवाल उठाए हैं। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने ट्वीट किया है। तेजस्वी ने नीतीश कुमार से पूछा है कि क्या भ्रष्ट बड़े अधिकारियों को बचाने के लिए छोटे कर्मियों से शो-कॉज पूछ रहे हैं? तेजस्वी ने ट्वीट कर कहा है कि विडंबना है कि सारी नीतियां आप और आपके बड़े भ्रष्ट अधिकारी बनाते है लेकिन भ्रष्टाचार की लीपापोती के लिए आप छोटे कर्मचारियों से शो-कॉज पूछ रहे हैं?

[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

Also Read

उसके बाद उन्होंने अपने दूसरे ट्वीट में तेजस्वी ने कहा है कि नीतीश जी ने अपने व्यापक कुप्रबंधन व भ्रष्टाचार जनित जलजमाव के लिए चंद इंजीनियरों को‘शो काॅज’ किया है पर जनता ने इन्हें जो ‘शो काॅज’ किया है उसपर क्यों चुप्पी साधे है? आप जो 14 साल से ष्सोष् रहे थे उस ष्सो कॉजष् पर भी कुछ बोलें।नक्षत्र और प्रकृति को शो कॉज क्यों नहीं किया? क्या हुआ?मुख्यमंत्री बतायें कि क्या ये इंजीनियर जल जमाव, नाला, सीवर, नमामि गंगे और ड्रेनेज संबंधित क्मबपेपवद और Decision और Policy Making process  का हिस्सा थे?

बता दें कि तीन दिनों की भारी बारिश के बाद 15 दिनों से अधिक समय तक राजधानीवासियों का जीवन नारकीय बनाने के दोषी की पहचान के लिए मुख्यमंत्रई नीतीश कुमार ने सोमवार को बैठक बुलाई थी। सोमवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई बैठक में बुडको, पटना नगर निगम से लेकर नमामि गंगे तक के कुल 58 अफसरों और कर्मियों पर कार्रवाई हो गई। इनमें चीफ इंजीनियर से लेकर पंप ऑपरेटर तक शामिल हैं।

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.