By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

SDO दफ्तर के बाहर RJD नेता का आत्मदाह का हाई-वोल्टेज ड्रामा

;

- sponsored -

एसडीओ कार्यालय परिसर में उस वक्त अफरातफरी मच गई जब आरजेडी के जिला उपाध्यक्ष जितेंद्र सिंह चंदेल ने अपने शरीर पर मिट्टी तेल डालकर आत्मदाह करने की कोशिश करने लगे. जब पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया तो वे फुट फुट कर रोने लगे. घंटे भर नेताजी का रोने-धोने का यह हाई-वोल्टेज ड्रामा चलता रहा.

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

SDO दफ्तर के बाहर RJD नेता का आत्मदाह का हाई-वोल्टेज ड्रामा

समस्तीपुर :बिहार के समस्तीपुर जिले में एक आरजेडी नेता का आत्मदाह का  हाई वोल्टेज ड्रामा लोगों के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है. पहले तो आरजेडी नेता ने आत्मदाह की कोशिश की और जब पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया तो फूट-फूटकर रोने लगे. तकरीबन घंटे भर नेताजी का रोने-धोने का यह हाई-वोल्टेज ड्रामा चलता रहा.

खबर के अनुसार एसडीओ कार्यालय परिसर में उस वक्त अफरातफरी मच गई जब आरजेडी के जिला उपाध्यक्ष जितेंद्र सिंह चंदेल ने अपने शरीर पर मिट्टी तेल डालकर आत्मदाह करने की कोशिश करने लगे. जब पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया तो वे फुट फुट कर रोने लगे. नेताजी के अनुसार पहले जब वो समस्तीपुर अनुमंडल कार्यालय के आरटीपीएस काउंटर पर भ्रस्टाचार की शिकायत करने पहुंचे थे तो 2 अगस्त को उनके साथ अपर जिला आपूर्ति पदाधिकारी द्वारा कथित तौर पर मारपीट और अभद्र व्यवहार किया गया था. नेताजी ने समस्तीपुर के तमाम प्रशासनिक अधिकारियों से इस बात की लिखित शिकायत की थी.लेकिन कोई कारवाई नहीं हुई.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

थक हारकर नेताजी ने आरोपी पदाधिकारी के विरुद्ध तीन दिनों के भीतर कार्रवाई की मांग करते हुए ये चेतावनी दी थी कि अगर आरोपी एडीएसओ पर कार्रवाई नही हुई तो वे 6 अगस्त को एसडीओ कार्यालय के सामने ही आत्मदाह कर लेंगे. जब कारवाई नहीं हुई तो नेताजी एसडीओ दफ्तर आत्मदाह करने निकल गए. पुलिस ने उन्हें घर से निकलते समय ही गिरफ्तार कर लिया, लेकिन फिर भी पुलिस की गिरफ्त से निकल कर पुलिस को चकमा देते हुए नेताजी एसडीओ कार्यालय पहुंच गए और आत्मदाह की कोशिश करने लगे. इस दौरान वहां मौजूद पुलिस अधिकारी ने उन्हें फिर पकड़ लिया.

इधर जानकारी मिलते ही आरजेडी,जेडीयू,बीजेपी, बामपंथी सभी दलों के नेता और अधिकारी वहां पहुंच गए और उन्हें आत्मदाह करने से रोक लिया.इस पूरे घटनाक्रम के दौरान अभद्र व्यवहार की आपबीती सुनाते हुए आरजेडी नेता काफी देर तक फुट फुट कर रोते रहे. बाद में सभी लोगों के साथ उन्हें डीएम के पास ले जाया गया. डीएम ने पूरे मामले की जांच करवाकर कठोर कार्रवाई का भरोसा दिया है.नेताजी को अब भी एसडीओ के खिलाफ कारवाई का इंतज़ार है.

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.