By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

राबड़ी आवास के बाहर राजद नेताओं का हंगामा, नई कमिटी में जगह नहीं मिलने से नाराज

Above Post Content

- sponsored -

साल 2020 बिहार विधानसभा चुनाव होना है. ऐसे सभी राजनीतिक पार्टियां अपने संगठन को मजबूत करने में लगे हैं. इसी कड़ी में आज राजद ने भी नई कमिटी का गठन कर लिया है. गुपचुप तरीके से हुए इस नए कमिटी के पदाधिकारियों की आज बैठक बुलाई गई है.

Below Featured Image

-sponsored-

राबड़ी आवास के बाहर राजद नेताओं का हंगामा, नई कमिटी में जगह नहीं मिलने से नाराज

सिटी पोस्ट लाइव : साल 2020 बिहार विधानसभा चुनाव होना है. ऐसे सभी राजनीतिक पार्टियां अपने संगठन को मजबूत करने में लगे हैं. इसी कड़ी में आज राजद ने भी नई कमिटी का गठन कर लिया है. गुपचुप तरीके से हुए इस नए कमिटी के पदाधिकारियों की आज बैठक बुलाई गई है. राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने सभी नये पदाधिकारियों को गुपचुप तरीके से फोन करके मीटिंग के लिए बुलाया गया था. ताकि ताकि  जरुरी मुद्दों पर बैठकर चर्चा की जा सके.

बताया जाता है कि जगदानंद सिंह ने सिर्फ 200 लोगों को मीटिंग में बुलाया था लेकिन कई और भी नेता राबड़ी आवास पर पहुँच गए. सभी नेता अपना अपना नाम इस कमिटी में खोज रहे थे, लेकिन उनका नाम नहीं मिला. जिसके बाद नई कमिटी में जगह नहीं मिलने से राजद के कार्यकर्ताओं में काफी नारजगी देखने को मिली. राजद कार्यकर्ताओं का कहना है कि वो लोग 30 साल से पार्टी के लिए काम कर रहे हैं लेकिन पार्टी ने उनका ख्याल नहीं रखा.

Also Read
Inside Post 3rd Paragraph

-sponsored-

नई कमिटी की मीटिंग के लिए मधुबनी से आए राजद नेताओं ने हंगामा किया है. उनका कहना है कि उन्हें पार्टी की कमिटी से हटा दिया गया है. हंगामा कर रहे आरजेडी के नेताओं का आरोप है कि नई कमिटी में जदयू बीजपी नेताओं को जगह दी जा रही और समर्पित कार्यकर्ता को संगठन से हटाया जा रहा. बताते चलें कि इस मीटिंग की अगुआई प्रतिपक्ष नेता तेजस्वी यादव को करना है. ऐसे में जिन लोगों का नाम कमिटी से हटा दिया गया या डाला ही नहीं गया, उनका हंगामा मीटिंग में खलल डाल सकता है.

पटना से बंदना शर्मा की रिपोर्ट

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.