By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

एम्स निर्माण को लेकर राजद कार्यकर्ताओं का हंगामा, पुलिस ने बरसाई लाठियाँ, कई जख्मी

;

- sponsored -

मुख्यमंत्री के सामने पुलिस-प्रशासन की हो रही किरकिरी पुलिस वालों को बर्दास्त नहीं हुई और पुलिस अधिकारियों ने भारी संख्यां में जवानों के साथ राजद कार्यकर्ताओं पर दौड़ा-दौड़ाकर लाठियां बरसानी शुरू कर दी।

-sponsored-

-sponsored-

एम्स निर्माण को लेकर राजद कार्यकर्ताओं का हंगामा, पुलिस ने बरसाई लाठियाँ, कई जख्मी

सिटी पोस्ट लाइव : सुपौल परिसदन से जैसे ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का काफिला सहरसा के लिए कूच किया, पहले से लामबंद राजद कार्यकर्ताओं ने सहरसा में एम्स निर्माण को लेकर नारेबाजी और हंगामा शुरू कर दिया। मुख्यमंत्री के सामने पुलिस-प्रशासन की हो रही किरकिरी पुलिस वालों को बर्दास्त नहीं हुई और पुलिस अधिकारियों ने भारी संख्यां में जवानों के साथ राजद कार्यकर्ताओं पर दौड़ा-दौड़ाकर लाठियां बरसानी शुरू कर दी।

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

इस लाठीचार्ज में कई राजद कार्यकर्ता जख्मी हुए हैं। यही नहीं इस लाठीचार्ज की तस्वीर को कैमरे में कैद कर रहे पत्रकारों को भी पुलिस ने नहीं बख्शा। राजद कार्यकर्ताओं की तरह पुलिस वालों ने पत्रकारों की भी जमकर धुनाई की है। बताते चलें कि कोसी की जनता विभिन्य सामाजिक संगठन के बैनर तले विगत कई महीनों से सहरसा में एम्स निर्माण के लिए आंदोलनरत हैं। इसी कड़ी में आज सहरसा के पटेल मैदान में आहूत जदयू प्रमंडलीय अति पिछड़ा कार्यकर्ता सम्मेलन में शामिल होने के लिए सूबे के मुखिया सुपौल से सहरसा रवाना हुए, सुपौल के लोहिया चौक पर पहले से भीड़ की शक्ल में जमा हुए राजद कार्यकर्ताओं ने सहरसा में एम्स का निर्माण हो इसके लिए जमकर नारेबाजी करने लगे।

यही नहीं राजद कार्यकर्ता नीतीश के करीब पहुंचकर अपनी मांग रखना चाहते थे लेकिन पुलिस वालों ने इन उग्र कार्यकर्ताओं को पहले तो रोका। लेकिन जब कार्यकर्ता सुरक्षा घेरा तोड़कर आगे बढ़ने लगे तो फिर पुलिस ने अपना आपा खो दिया और जमकर लाठियाँ भांजी। इस दौरान चोट खाये कार्यकर्ता काफी उत्तेजित हुए और उन्होनें जमकर तोड़फोड़ की। दुकानों को क्षतिग्रस्त किया और कई गाड़ियों में भी तोड़फोड़ की। इस लाठीचार्ज में पुलिस वालों ने पत्रकारों को भी दौड़ा-दौड़ा कर पीटा। आक्रोशित पत्रकार लोहिया चौक पर धरने पर बैठ गए हैं। बताते चलें कि कल मुख्यमंत्री का दरभंगा में कार्यक्रम था और वे सड़क रास्ते से कल शाम सुपौल पहुंचे थे, जहां उन्होंने रात्रि विश्राम किया था। आज सहरसा पटेल मैदान में नीतीश कुमार प्रमंडलीय अति पिछड़ा समाज के कार्यकर्ता और लोगों को संबोधित करेंगे। अब सुपौल के बाद सहरसा में एम्स को लेकर लोगों का गुस्सा किस तरह से फूटता है, यह तो कार्यक्रम के दौरान ही दिखेगा।

मुकेश कुमार सिंह की रिपोर्ट

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.