By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

अब 21 दिनों तक घर से निकलना भूल जाइए, जानिए प्रधानमंत्री के संबोधन की मुख्य बातें

Above Post Content

- sponsored -

कोरोना वायरस को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज फिर देश को संबोधित किया है. पहले सही है कयास लगाए जा रहे थे प्रधानमंत्री देश के नाम अपने संबोधन में आज कोई बड़ा ऐलान कर सकते हैं क्योंकि इससे पहले जब उन्होंने देश को संबोधित किया था तो जनता कर्फ्यू का ऐलान किया था.

Below Featured Image

-sponsored-

अब 21 दिनों तक घर से निकलना भूल जाइए, जानिए प्रधानमंत्री के संबोधन की मुख्य बातें

सिटी पोस्ट लाइव: कोरोना वायरस को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज फिर देश को संबोधित किया है. पहले सही है कयास लगाए जा रहे थे प्रधानमंत्री देश के नाम अपने संबोधन में आज कोई बड़ा ऐलान कर सकते हैं क्योंकि इससे पहले जब उन्होंने देश को संबोधित किया था तो जनता कर्फ्यू का ऐलान किया था. आज जो प्रधानमंत्री ने कोरोनावायरस को लेकर देश को संबोधित किया है तो यह साफ हो गया है कि आज रात 12:00 बजे के बाद से दुनिया का सबसे बड़ा लोक डाउन शुरू हो जाएगा.

पीएम मोदी ने आज रात 12:00 बजे से लेकर 14 अप्रैल तक पूरे देश में लाक डाउन का ऐलान किया है.प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज रात 12 बजे से संपूर्ण भारत को लॉक डाउन किया जा रहा है. यह लॉक डाउन पूरे 21 दिन तक लागू रहेगा. कोई भी व्यक्ति अपने घर से नहीं निकलेगा. पीएम मोदी ने लोगों से अपील की कि लोग अपने और अपने परिवार के लिए अपने घरों में रहे. घरों से बाहर न निकलें.

Also Read

-sponsored-

पीएम मोदी ने कहा कि अगर लापरवाही जारी रही तो भारत को इसकी बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ सकती है. यह कीमत कितनी चुकानी पड़ेगी, अंदाजा लगाना मुश्किल है. देश में दो दिनों से कई भागों में लॉकडाउन कर दिया गया है. राज्य सरकार के इन प्रयासों को गंभीरता से लेना चाहिए. हेल्थ सेक्टर के अनुभवों को ध्यान में रखते हुए देश महत्वपूर्ण निर्णय करने जा रहा है. आज रात 12 बजे से पूरे देश में पूरा लॉकडाउन होने जा रहा है. हिंदुस्तान को बचाने के लिए, हर नागरिक को बचाने के लिए, आपके परिवार और आपको बचाने के लिए आज रात 12 बजे से घरों से बाहर निकलने पर पूरी तरह पाबंदी लगाई जा रही है.ज्य, केंद्र शासित प्रदेश, हर जिला, गांव, कस्बा, गली-मोहल्ला लॉकडाउन किया जा रहा है. यह एक तरह से कर्फ्यू ही है. जनता कर्फ्यू से जरा ज्यादा सख्त है. कोरोना महामारी के खिलाफ निर्णायक लड़ाई के लिए यह कदम बहुत आवश्यक है.

Below Post Content Slide 4

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.