By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

तेजस्वी के सर फूटने लगा हार का ठीकरा, बागी फातमी ने कहा-‘घमंड ने हरवाया’

Above Post Content

- sponsored -

बिहार में महागठबंधन की करारी हार का ठीकरा अब राजद नेता तेजस्वी यादव के सर फूटने लगा है। राजद के बागी नेता अली अशरफ फातमी का एक बयान सामने आया है। मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से आ रहे बयान के मुताबित उन्होंने कहा है कि तेजस्वी के घमंड ने बिहार में महागठबंधन को हरवाया और राजद का खाता भी नहीं खुलने दिया।

Below Featured Image

-sponsored-

तेजस्वी के सर फूटने लगा हार का ठीकरा, बागी फातमी ने कहा-‘घमंड ने हरवाया’

सिटी पोस्ट लाइवः बिहार में महागठबंधन की करारी हार का ठीकरा अब राजद नेता तेजस्वी यादव के सर फूटने लगा है। राजद के बागी नेता अली अशरफ फातमी का एक बयान सामने आया है। मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से आ रहे बयान के मुताबित उन्होंने कहा है कि तेजस्वी के घमंड ने बिहार में महागठबंधन को हरवाया और राजद का खाता भी नहीं खुलने दिया। फातमी ने हार की कई और वजह भी बतायी।

उन्होंने कहा कि एनडीए संगठित होकर चुनाव लड़ रहा था, वहां सीटों को लेकर तालमेल सही था। सीटों और टिकटों का बंटवारा समय से हुआ लेकिन महागठबंधन में सिर्फ कागज पर रणनीति बनती रही, जमीन पर कुछ नहीं दिख रहा था। प्रत्याशियों का चयन भी राजद और उसके सहयोगी दलों ने ठीक नहीं किया यही वजह रही कि महागठबंधन के प्रत्याशी न सिर्फ हारे हैं बल्कि ज्यादातर सीटों पर लाखों मतों के बड़े अंतर से उनकी हार हुई है। जबकि कांग्रेस ने सही प्रत्याशियों का चयन किया इस वजह से भले हीं बिहार में उसकी एक हीं सीट आयी हो लेकिन उसके प्रत्याशी कम मतों के अंतर से हारे और बिहार में अच्छा-खासा वोट कांग्रेस को मिला है।

Also Read
Inside Post 3rd Paragraph

-sponsored-

फातमी ने संकेतो में यह भी कहने की कोशिश की है कि तेजस्वी यादव को इस हार की नैतिक जिम्मेवारी लेते हुए इस्तीफा देना चाहिए। उन्होंने कहा कि 2014 के लोकसभा चुनाव में जब जेडीयू की बुरी हार हुई थी और पार्टी को महज दो सीटें आयी थी तब नीतीश कुमार ने नैतिक जिम्मेवारी लेते हुए इस्तीफा दे दिया था तब जीतन राम मांझी बिहार के मुख्यमंत्री बने थे।

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.