By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

चाचा भतीजे की लड़ाई में कूदे सूरजभान सिंह, कहा-मेरा काम परिवार को जोड़ना है न कि तोड़ना

HTML Code here
;

- sponsored -

इनदिनों बिहार के एक सियासी घराने में घमासान मची हुई है. लोक जनशक्ति पार्टी के भीतर बड़ी बगावत के बाद  चिराग पासवान ने बुधवार को नई दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस अपने चाचा पर गंभीर आरोप लगाए. उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव के बाद से ही चाचा के सुर बदलने लगे.

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : इनदिनों बिहार के एक सियासी घराने में घमासान मची हुई है. लोक जनशक्ति पार्टी के भीतर बड़ी बगावत के बाद  चिराग पासवान ने बुधवार को नई दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस अपने चाचा पर गंभीर आरोप लगाए. उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव के बाद से ही चाचा के सुर बदलने लगे. यही नहीं मैं बिहार क्या हुआ मेरे पीठ पीछे बड़ा गेम कर बैठे. चाचा भतीजे की इस लड़ाई में अब एलजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष सूरजभान सिंह ने भी जवाब दिया है. उन्होंने कहा कि मेरा काम परिवार को जोड़ना है न कि तोडना.

उन्होंने कहा कि चिराग को ये समझने की जरुरत है कि बहुत दिनों तक चाचा ने उनके अंडर में काम किया और कुछ दिन वे भी चाचा के अंडर में रह चुके हैं. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि चिराग को किसी भी बात को लेकर संशय नहीं रखना चाहिए. हम कोई भी कार्रवाई कभी नहीं करेंगे. सूरजभान ने कहा कि उनकी पार्टी और उनका परिवार बरकरार रहेगा.

बता दें आज चिराग पासवान ने प्रेस कांफ्रेंस कर अपने चाचा पशुपति पारस पर गंभीर आरोप लगाए. उन्होंने कहा कि चाचा से बहुत बात करने की कोशिश की लेकिन उनके तरफ से कोई जवाब नहीं आया. यदि वे पहले बोलते तो उन्हें ही संसदीय दल का नेता बना देता. मैंने हमेशा परिवार और पार्टी को एकजुट में रखने की कोशिश की है.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

साथ ही कहा कि, यह पहली बार नहीं है जब एलजेपी को तोड़ने की कोशिश की गयी है. बल्कि इससे पहले भी पार्टी को तोड़ने की कोशिश की जा चुकी है. साथ ही कहा कि, उनके चाचा को गलत तरीके से नेता चुना गया है और लोजपा का संविधान कहता है कि अध्यक्ष को ऐसे हटाया ही नहीं जा सकता है.

HTML Code here
;

-sponsered-

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.