By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

मोदी कैबिनेटः रामकृपाल यादव पर सस्पेंस बरकरार, ‘पासवान’, नित्यानंद राय, गिरिराज को आया फोन

- sponsored -

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मंत्रिमंडल में किन-किन नेताओं को जगह मिलेगी इस पर से अब सस्पेंस खत्म होने लगा है क्योंकि नेताओं के पास शपथ ग्रहण के लिए फोन आने लगा है। जिन नेताओं को मंत्री पद की शपथ लेनी है उन्हें फोन जाने लगा है।

-sponsored-

मोदी कैबिनेटः रामकृपाल यादव पर सस्पेंस बरकरार, ‘पासवान’, नित्यानंद राय, गिरिराज को आया फोन

सिटी पोस्ट लाइवः प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मंत्रिमंडल में किन-किन नेताओं को जगह मिलेगी इस पर से अब सस्पेंस खत्म होने लगा है क्योंकि नेताओं के पास शपथ ग्रहण के लिए फोन आने लगा है। जिन नेताओं को मंत्री पद की शपथ लेनी है उन्हें फोन जाने लगा है। बिहार से आरसीपी सिंह, गिरिराज सिंह, नित्यानंद राय, रविशंकर प्रसाद, आरके सिंह और रामविलास पासवान के पास फोन आ गये हैं। यानि इन नेताओं का मंत्री बनना तय हो गया है।

हांलाकि रामकृपाल यादव पर सस्पेंस अब भी बरकरार है। एक तरफ यह माना जा रहा है कि चूंकी रामकृपाल यादव ने पाटलीपुत्रा सीट से दूसरी बार आरजेडी उम्मीदवार मीसा भारती को हराया है इसलिए उन्हें इसका इनाम मिल सकता है जबकि दूसरी तरफ यह माना जा रहा है कि चूंकी रामकृपाल यादव के पास अब तक कोई फोन नहीं आया है इसलिए ऐसा लगता है कि इस बार वे मंत्री नहीं बनाये जा रहे। खबर है कि राजनाथ सिंह, मुख्तार अब्बास नकवी, पीयूष गोयल, स्मृति ईरानी, नितिन गडकरी, रामविलास पासवान, निर्मला सीतारमण, प्रकाश जावड़ेकर, रविशंकर प्रसाद,अनुप्रिया पटेल, नरेंद्र सिंह तोमर, धर्मेंद्र प्रधान, जेपी नड्डा, गिरिराज सिंह, आरके सिंह, राज्यवर्धन सिंह राठौर, अर्जुन सिंह, गजेंद्र सिंह शेखावत, रामदास आठवले सरीखे नेता मंत्री बनने वाली लिस्ट में शामिल हैं।

Also Read

-sponsored-

इनमें से अधिकांश नेताओं को अबतक फोन जा चुके हैं। नरेंद्र मोदी दूसरी बार आज प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने वाले हैं. 2014 की तरह ही इस बार भी प्रधानमंत्री मोदी और उनके मंत्रीमंडल का शपथ ग्रहण समारोह मेगा इवेंट होने वाला है. कार्यक्रम में शामिल होने के लिए 8000 मेहमानों को न्योता भेजा गया है. बाहरी मेहमानों में बांग्लादेश, श्रीलंका, म्यांमार, थाईलैंड, नेपाल और भूटान के प्रमुख शामिल होंगे.

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.