By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

केंद्र के समर्थन में उतरे मंगल पांडेय को तेजप्रताप ने बताया झूठा, जनता को ठग रही सरकार

HTML Code here
;

- sponsored -

ऑक्सीजन की कमी से किसी की भी मौत नहीं हुई. ये केंद्र सरकार का कहना है. वहीं बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय का भी कहना है कि बिहार में किसी की भी मौत ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई. मतलब बिहार के स्वास्थ्य मंत्री भी केंद्र के समर्थन में उतर गए हैं.

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : ऑक्सीजन की कमी से किसी की भी मौत नहीं हुई. ये केंद्र सरकार का कहना है. वहीं बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय का भी कहना है कि बिहार में किसी की भी मौत ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई. मतलब बिहार के स्वास्थ्य मंत्री भी केंद्र के समर्थन में उतर गए हैं. अब इस बात को लेकर बिहार में सियासत गर्म हो गई है. इसे लेकर जहां पहले कांग्रेस ने इसे गैर जिम्मेदाराना बयान बताया है. और कहा है कि कोरोना काल में सैकड़ों की संख्या में लोगों की मौत हुई. लोग ऑक्सीजन की कमी के कारण छटपटा रहे थे और उन्हें ऑक्सीजन नहीं मिल रही थी. वहीं आज किस तरह यह दावा कर रहे हैं कि बिना ऑक्सीजन के किसी की मौत नहीं हुई.

वहीं अब पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव ने मंगल पांडेय को झूठा बताया है. उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय झूठ बोल रहे हैं. उन्होंने कहा कि जिस तरीके से पिछले महीने बिहार में ऑक्सीजन की कमी की वजह से हजारों लोगों की मौत हुई थी. लेकिन स्वास्थ्य मंत्री कह रहे हैं कि ऑक्सीजन की कमी की वजह से एक भी मौत नहीं हुई है. इससे साफ़ जाहिर होता है कि केंद्र और राज्य सरकार जनता को ठगने का काम कर रही हो. तेजप्रताप ने कहा कि राज्यसभा में कल जो आंकड़ा पेश किया है वह बिल्कुल गलत है और निराधार है.

बता दें इससे पहले आरजेडी प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि यह पूरी तरह बकवास और सरासर झूठा दावा है. सिर्फ बिहार ही नहीं बल्कि उत्तर प्रदेश सहित देश के सभी राज्यों में बड़े संख्या में ऑक्सीजन की कमी के कारण लोगों की मौत हुई है. केंद्र सरकार सिर्फ आंकड़ो में हेरफेर करना जानती है उसे आम लोगों के जीवन से कोई मतलब नहीं. जाहिर है कोरोना के दूसरे लहर में पूरे देश से ऑक्सिजन की  कमी की खबर आई थी. ऑक्सीजन प्लांट के बाहर लम्बी-लम्बी लाइन देखी गई थी.

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.