By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

तेजस्वी ने सुशील मोदी को भी घेरा, तारकिशोर प्रसाद के साथ कनेक्शन किया उजागर

HTML Code here
;

- sponsored -

बिहार के डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद नल-जल योजना में साले, दामाद और बहू को 53 करोड़ की ठीकेदारे दिए जाने पर विपक्ष के निशाने पर आ गये हैं। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने डिप्टी सीएम पर खूब हमला बोला। इस मामले में तेजस्वी ने पूर्व डिप्टी सीएम और वर्तमान में बीजेपी के राज्यसभा सांसद सुशील मोदी पर भी गंभीर आरोप लगाए हैं।

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : बिहार के डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद नल-जल योजना में साले, दामाद और बहू को 53 करोड़ की ठीकेदारे दिए जाने पर विपक्ष के निशाने पर आ गये हैं। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने डिप्टी सीएम पर खूब हमला बोला। इस मामले में तेजस्वी ने पूर्व डिप्टी सीएम और वर्तमान में बीजेपी के राज्यसभा सांसद सुशील मोदी पर भी गंभीर आरोप लगाए हैं।

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने जल नल योजना में डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद के रिश्तेदारों को ठेका दिए जाने के सवाल पर नीतीश सरकार को घेरा। उन्होंने आरोप लगाया कि इसी का पैसा तारकिशोर प्रसाद ने सुशील मोदी को दिया और सुशील मोदी ने तारकिशोर प्रसाद का नाम डिप्टी सीएम के लिए आगे बढ़ाया। उन्होंने कहा कि तारकिशोर प्रसाद का जवाब आया है कि बिजनेस करने का अधिकार सबको है, लेकिन इस सरकार का बिजनेस ही भ्रष्टाचार करना है।

तेजस्वी ने आरोप लगाया कि डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद सुशील मोदी के कैंडिडेट हैं। उनके इशारे पर सब हो रहा है। कहा कि नल जल योजना राज्य में नल धन योजना बन गई है। सभी जिलों में इसका ठेका जेडीयू और बीजेपी नेताओं को दिया जा रहा है। जेडीयू और बीजेपी के लोग चुनाव की तैयारी में लगे हैं उसके लिए वोट खरीदने को पैसा इकट्ठा करने का यह हथियार बन गया है।

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

तेजस्वी ने कहा कि बीजेपी के लोग घोटालों करें तब भी दूघ के धुले हैं। डिप्टी सीएम के विभाग का मामला आ रहा है। इसके बाद भी नीतीश कुमार नहीं बोल रहे हैं। तेजस्वी ने कहा कि बीजेपी के विधायक ने ही कहा था कि अधिकारी बिना घूस लिये कुछ नहीं करते। तेजस्वी ने कहा कि जब एक कांस्टेबल के पास से दस करोड़ की आमदनी के साथ आलीशान बंगला मिला है तो अधिकारी और मंत्री लेवल के लोग कितना भ्रष्टाचार किया होगा। केवल छोटे लोगों को पकड़ा जाता है। बड़ी मछलियां पकड़ी नहीं पकड़ी जाती हैं। इन्हें बचाने वाले नीतीश कुमार ही हैं।

HTML Code here
;

-sponsered-

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.