By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

नीतीश जी ने छोड़ी बिहार की चिंता, शराबबंदी की आड़ में गरीबों पर करते अत्याचार : तेजस्वी

;

- sponsored -

शराब बंदी कानून के आड़ में दलितों को परेशान करने की बात कहते हुए कहा कि जेल में सबसे अधिक दलित हीं शराब पीने के आरोप में बंद किए गए हैं।

-sponsored-

-sponsored-

नीतीश जी ने छोड़ी बिहार की चिंता, शराबबंदी की आड़ में गरीबों पर अत्याचार : तेजस्वी

सिटी पोस्ट लाइव : संविधान बचाओ न्याय यात्रा के अपने दुसरे चरण में पूर्व उपमुख्यमंत्री और विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव मोतिहारी पहुंचे। जिला स्कूल के मैदान में संविधान बचाओ यात्रा में उनके साथ पूर्व केंद्रीय मंत्री अली अशरफ फातमी, राज्य सरकार के पूर्व मंत्री प्रगति मेहता समेत कई राजद नेता आए थे। उनके साथ मंच पर राजद के विधायक राजेंद्र राम,डा. शमीम अहमद,फैसल रहमान,डा. राजेश कुशवाहा, विनोद श्रीवास्तव समेत पूर्व बाहुबली विधायक राजन तिवारी और बब्लू देव भी मौजूद थे।

कार्यक्रम में तेजस्वी को माला पहनाने, सोना और चांदी का मुकुट पहनाने के अलावा मोमेंटो देने की होड़ लगी हुई थी। संविधान बचाओ न्याय यात्रा कार्यक्रम में अपने संबोधन में तेजस्वी यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के अलावा उनके मंत्रियों पर निशाना साधा। तेजस्वी ने आरक्षण की राजनीति को एक बार फिर हवा देते हुए केंद्र सरकार पर आरक्षण खत्म करने का आरोप लगाया। साथ हीं शराबबंदी कानून के आड़ में दलितों को परेशान करने की बात कहते हुए कहा कि जेल में सबसे अधिक दलित हीं शराब पीने के आरोप में बंद किए गए हैं।

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

उन्होने अपरोक्ष रुप से नीतीश कुमार और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित साह के बीच सीटों के बंटवारे पर कटाक्ष करते हुए कहा कि नीतीश जी बेचैन है। अब उन्होने बिहार की चिंता को छोड़ दिया है। बिहार से विकास गायब है और नीतीश जी फर्मूला निकाल रहे है।इतना तुम ले लो और इतना हम ले लेते हैं।लोभी आदमी है नीतीश जी। सत्ता का भूख इनका खत्म नहीं हो रहा है।उन्होने कहा कि जनता में नीतीश जी का इकबाल खत्म हो चुका है।इसलिए हर जगह उनका जूत्ता चप्पल से स्वागत हो रहा है।

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.