By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

केन्द्रीय विद्यालय को लेकर वार-पलटवार, डिप्टी सीएम को उपेन्द्र कुशवाहा ने दिया जवाब

- sponsored -

केन्द्रीय विद्यालय को लेकर भले हीं रालोसपा अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा ने अपना आमरण अनशन समाप्त कर लिया हो लेकिन इस मामले पर सियासत थमती नजर नहीं आ रही है। शिक्षा सुधार और केन्द्रीय विद्यालय को लेकर उपेन्द्र कुशवाहा और सीएम नीतीश कुमार के बीच जो सीधी भिड़ंत चल रही है उस लड़ाई में बिहार के डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी भी कूद पड़े हैं।

-sponsored-

केन्द्रीय विद्यालय को लेकर वार-पलटवार, डिप्टी सीएम को उपेन्द्र कुशवाहा ने दिया जवाब

सिटी पोस्ट लाइवः केन्द्रीय विद्यालय को लेकर भले हीं रालोसपा अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा ने अपना आमरण अनशन समाप्त कर लिया हो लेकिन इस मामले पर सियासत थमती नजर नहीं आ रही है। शिक्षा सुधार और केन्द्रीय विद्यालय को लेकर उपेन्द्र कुशवाहा और सीएम नीतीश कुमार के बीच जो सीधी भिड़ंत चल रही है उस लड़ाई में बिहार के डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी भी कूद पड़े हैं। डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने उपेन्द्र कुशवाहा के आमरण अनशन को लेकर उन पर हमला किया तो उपेन्द्र कुशवाहा ने भी इस हमले का जवाब दिया है।

डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा कि-‘पांच साल केन्द्र में मंत्री रहने के बावजूद वे बिहार में एक भी केन्द्रीय विद्यालय नहीं खुलवा सके। मंत्री रहते काम करने की बजाया शिक्षा पर धरना-प्रदर्शन का जो तमाशा-राजनीति उन्होंने शुरू की, उसे ‘आमरण अनशन’ के क्लाइमेक्स पर पहुंचाया। अनशन तोड़ने के लिए उन साथियों के आश्वासन पर भरोसा कर लिया, जो 15 साल में बिहार को केन्द्रीय विद्यालय नहीं, केवल चरवाहा विद्यालय दे पाए।’

Also Read

-sponsored-

सुशील मोदी के इस हमले का जवाब देते हुए उपेन्द्र कुशवाहा ने लिखा कि-‘एनजीपीसी नवीनगर में केन्द्रीय विद्यालय खुलवाया। नवादा और देवकुंड में स्वीकृति दिलवाई, आपने रोका। कैमूर, अरवल, शेखपुरा, मधुबनी, मधेपुरा और सुपौल के लिए मंत्रालय की योजना में शामिल कर प्रस्ताव मांगा, आपने भेजा नहीं। डेहरी/अकोढ़ीगोला का प्रस्ताव आपने रोका।’

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.