By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

JDU के सुप्रीमो को सता रही है कौन सी चिंता,कहा- आबादी इतनी न बढ़े कि कराहने लगे पृथ्वी.

;

- sponsored -

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह (RCP Singh) को बढती जनसँख्या डरा रही है. उन्होंने कहा कि यह एक बड़ी समस्या है और इस पर नियंत्रण के लिए सबका दायित्व बनता है.जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने पार्टी के प्रदेश कार्यालय में मीडिया से बातचीत में कहा कि बढ़ती जनसंख्या देश की बड़ी समस्या है. आबादी इतनी न बढ़े कि पृथ्वी ही कराहने लगे. उन्होंने कहा कि जनसंख्या को सिर्फ कानून के नजरिये से नहीं देखना होगा बल्कि उससे भी बड़े स्तर पर देखने की जरूरत है. बढ़ती जनसंख्या को समाजिक और स्वास्थ्य नजरिये से देखना होगा .हर व्यक्ति को खुद से देखना होगा कि वे कितने बच्चे रखें. बढ़ती जनसंख्या से चिंतित आरसीपी सिंह ने कहा कि यह समस्या गम्भीर है और सबका सहयोग जरूरी है.

राममंदिर निर्माण में दान देने के सवाल पर जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह ने कहा कि दान हल्ला कर नहीं दिया जाता है बल्कि गुप्त दान होता है. दान स्वेच्छा से दिया जाता है और यह आस्था से जुड़ा मामला है. उन्होंने कहा कि जिसको लगता है कि दान करें वो दान करता है. इसमें कौन सी बड़ी बात है?गौरतलब है कि आज जेडीयू प्रदेश कार्यालय में मिलन समारोह आयोजित था .आज  विश्वकर्मा समाज के कई नेताओं ने पार्टी की सदस्यता ग्रहण की. पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह ने कहा कि विश्वकर्मा समुदाय के हाथ में जो हुनर है उससे समाज बनता है. लकड़ी से हर घर में शोभा और सुरक्षा मिलती है. विश्वकर्मा समुदाय सृजन का परिचायक है. इंजीनियर भी निर्माण करते हैं.

आरसीपी सिंह ने कहा कि  बिहार सरकार हर जिले में पॉलिटेक्निक और आईटीआई खोल रही है, जो भी बच्चे प्रशिक्षण लेंगे उन्हें रोजगार मिलेगा. आने वाले समय में विश्वकर्मा समाज को और रोजगार मिलेगा. उन्होंने कहा कि जिसके हाथ में हुनर है वे कभी भूखे नहीं मरेंगे. हमारी सरकार इन हुनरमंदों को 5 लाख रुपये का ऋण दे रही है जिसमें 50 फीसदी अनुदान है.

;

-sponsored-

Comments are closed.