By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

युद्धस्तर पर चल रही है राम मंदिर के निर्माण की तैयारी,पत्थरों की तरासी जारी

;

- sponsored -

-sponsored-

-sponsored-

युद्धस्तर पर चल रही है राम मंदिर के निर्माण की तैयारी,पत्थरों की तरासी जारी

सिटी पोस्ट लाइव : अयोध्या राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद जमीन विवाद मामले की सुनवाई पूरी हो चुकी है लेकिन अभीतक फैसला नहीं आया है. सुप्रीम कोर्ट में 40 दिन तक चले ऐतिहासिक सुनवाई के बाद अब सभी को फैसले का बेसब्री से इंतज़ार है. लेकिन अभी से राम मंदिर के निर्माण की तैयारी शुरू हो चुकी है.राम मंदिर का नक्षा पहले से बनकर तैयार है.

गुजरात  के अहमदाबाद के चंद्रकांत भाई सोमपुरा वो शख्सियत हैं, जिन्होंने राम मंदिर का डिजाइन तैयार किया है. उनके बनाए गए मॉडल को दर्शन के लिए अयोध्या के कारसेवकपुरम में रखा गया है. यह जगह विश्व हिंदू परिषद (VHP) का मुख्यालय है. सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर चंद्रकांत भाई भी उत्साहित हैं.चंद्रकांत का कहना है कि उनके द्वारा बनाए गए राम मंदिर के नक़्शे को मूर्तरूप देने में सिर्फ तीन साल का समय लगेगा.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

मंदिर बनाये जाने के लिए 50 फीसदी पत्थरों की तराशी का काम पूरा हो गया है. मंदिर बनाने में कई गुना ज्यादा खर्च हो सकता है क्योंकि मंदिर के निर्माण में सैंडस्टोन बलुआ पत्थर का इस्तेमाल किया जाएगा.पत्थर राजस्थान के भरतपुर से मंगाये गये हैं.चंद्रकांत के अनुसार राम मंदिर देश का सबसे सुन्दर मंदिर होगा.

जाहिर है सुप्रीम कोर्ट से अनुकूल फैसला आने की उम्मीद रामभक्त लगाए बैठे हैं.अभी से अयोध्या साधू संत पहुँचने लगे हैं.एहतियात के तौर पर शान्ति व्यवस्था बनाए रखने के लिए सरकार ने अभी से अयोध्या में सुरक्षा बालों की तैनाती शुरू कर दी है.अयोध्या में हर तरफ राम मंदिर की चर्चा है.ये पहलीबार है जब राम मंदिर पर आनेवाले फैसले को लेकर यहाँ हिन्दू-मुस्लिम दोनों के बीच कोई कटुता का भाव नहीं दिख रहा है.दोनों ही बड़ी सहजता के साथ राम मंदिर विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत करने को तैयार बैठे हैं.

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.