By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

सांसद ललन सिंह शुरू कर चुके हैं विधायक अनंत सिंह का होम्योपैथिक ईलाज

- sponsored -

बिहार के बहुबाली विधायक अनंत सिंह उर्फ़ छोटे सरकार का होम्योपैथिक ईलाज शुरू हो चूका है. गौरतलब है कि अनंत सिंह ने अपे राजनीतिक गुरु जेडीयू नेता ललन सिंह के खिलाफ ही लोक सभा चुनाव के पहले मोर्चा खोल दिया था.

-sponsored-

सांसद ललन सिंह शुरू कर चुके हैं विधायक अनंत सिंह का होम्योपैथिक ईलाज

सिटी पोस्ट लाइव : बिहार के बहुबाली विधायक अनंत सिंह उर्फ़ छोटे सरकार का होम्योपैथिक ईलाज शुरू हो चूका है. गौरतलब है कि अनंत सिंह ने अपे राजनीतिक गुरु जेडीयू नेता ललन सिंह के खिलाफ ही लोक सभा चुनाव के पहले मोर्चा खोल दिया था. अपराध की दुनिया से राजनीति की दुनिया में जिस अनंत सिंह को ललन सिंह ने लाया और राजनीति में एक मुकाम पर पहुंचाया ,वहीँ अनंत सिंह ने पिछले लोक सभा चुनाव के पहले ललन सिंह के खिलाफ मोर्चा खोल दिया.अनंत सिंह ने मुंगेर से ललन सिंह के खिलाफ लोक सभा चुनाव लड़ने का एलान कर दिया. अनंत सिंह ने ललन सिंह की जमानत जप्त करा देने का एलान करते हुए यहाँ तक कह दिया कि अगर ऐसा वो नहीं कर पाए तो राजनीति से हमेशा के लिए संन्यास ले लेगें.

अनंत सिंह ने ललन सिंह के कट्टर विरोधी बिहार के एक दिग्गज कांग्रेसी नेता का सहारा लेकर कांग्रेस के टिकेट के लिए एडी छोटी का जोर लगा दिया. खुद तो कांग्रेस के उम्मीदवार नहीं बन पाए लेकिन पत्नी को कांग्रेस के टिकेट पर चुनाव मैदान में जरुर उतार दिया. अनंत सिंह के लिए चुनाव जितने से ज्यादा जरुरी  ललन सिंह को चुनाव हराना था. इसके लिए उन्होंने पानी की तरह पैसा बहाया. सूत्रों के अनुसार पुरे चुनाव के दौरान शासन प्रशासन पर अपने खिलाफ एकतरफा कारवाई करने का आरोप लगानेवाले अनंत सिंह ने एक बड़े पुलिस के अधिकारी को अपना मुहर बनाया.किसी कीमत पर चुनाव जितने का हर जातां किया लेकिन चुनाव हार गए.

Also Read

-sponsored-

चुनाव हारने के बाद से अनंत सिंह मीडिया के सामने नहीं आ रहे हैं. अब वो ये बताने को तैयार नहीं हैं कि ललन सिंह की जमानत जप्त करा देने के उनके वायदे का क्या हुआ.चुनाव हार जाने पर राजनीति से संन्यास ले लेने के उनके एलान का क्या हुआ. मीडियाकर्मी बेताब हैं एकबार अनंत सिंह से सवाल जबाब करने को लेकिन अनंत सिंह सवाल जाब के लिए तैयार नहीं हैं. इस बीच बड़ी खबर आ रही है कि चुनाव के दौरान अनंत सिंह का होम्योपैथिक ईलाज करने का एलान करनेवाले ललन सिंह ने अपना काम शुरू कर दिया है. यानी अनंत सिंह का होम्योपैथिक ईलाज शुरू हो चूका है. सबसे पहले पुलिस का वह अधिकारी निशाने पर है जिसने अनंत सिंह के पक्ष में चुनाव में काम किया. सूत्रों की मानें तो उस अधिकारी की कुंडली खंगालने में ललन सिंह की टीम दिनरात जुटी है.

ललन सिंह के करीबी लोगों का कहना है कि उस पुलिस अधिकारी का रिकॉर्ड भी अनंत सिंह से कम खूंखार नहीं है.उनके उसी रिकॉर्ड के जरिये उनका ईलाज शुरू करेगें ललन सिंह. पुलिस अधिकारी को ठिकाने लगाने के बाद अनंत सिंह का होम्योपैथिक ईलाज शुरू होगा. वैसे भी अनंत सिंह के खिलाफ 40 से ज्यादा अपराधिक मामले दर्ज हैं और उनके खिलाफ कानूनी कारवाई बेहद आसान है. लेकिन ललन सिंह उनके खिलाफ कारवाई करने के पहले उनके शुभचिंतकों का ईलाज कर देना चाहते हैं ताकि वो आगे अनंत सिंह की मदद के लायक नहीं रह सकें.

ललन सिंह चुनाव जितने के बाद अनंत सिंह और उनके समर्थकों के होम्योपैथिक ईलाज में तो जुट गए हैं लेकिन बीमारी दूर करने में कितना समय लगेगा अभी बता पाना मुश्किल है. वैसे भी ललन सिंह कह चुके हैं कि अंग्रेजी ईलाज क्षणिक होता है और उसका असर भी कम समय तक ही रहता है लेकिन होम्योपैथिक ईलाज में ज्यादा समय लगता है और उसका असर भी लम्बे समय तक रहता है.अब देखना ये है कि लोक सभा चुनाव जितने में तो ललन सिंह कामयाब हो गए हैं लेकिन अनंत सिंह का होम्योपैथिक ईलाज करने में किस हदतक सफल हो पाते हैं.

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.