By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

आज भी लालू यादव को नहीं मिली राहत, जमानत याचिका पर अगली सुनवाई 12 जुलाई को

;

- sponsored -

RJD सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को झारखंड हाईकोर्ट से आज कोई राहत नहीं मिल पाई. जमानत याचिका पर आज सुनवाई हुई लेकिन फिलहाल कोई राहत नहीं मिली. अब इस मामले में कोर्ट अगली सुनवाई 12 जुलाई को करेगा.

-sponsored-

-sponsored-

आज भी लालू यादव को नहीं मिली राहत, जमानत याचिका पर अगली सुनवाई 12 जुलाई को

सिटी पोस्ट लाइव :  RJD सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को झारखंड हाईकोर्ट से आज कोई राहत नहीं मिल पाई. जमानत याचिका पर आज सुनवाई हुई लेकिन फिलहाल कोई राहत नहीं मिली. अब इस मामले में कोर्ट अगली सुनवाई 12 जुलाई को करेगा. गौरतलब है कि अपनी आधी सजा पूरी कर लेने का हवाला  लालू प्रसाद यादव ने झारखंड हाईकोर्ट में दिया है. आज जस्टीस एके सिंह की अदालत ने सुनवाई की लेकिन कोई फैसला लेने की बजाय तारीख आगे बढ़ा दी है.इस मामले में कोर्ट के निर्देश के मुताबिक़ कोर्ट में सीबीआई ने अपना जवाब दाखिल कर दिया है. अगली तारीख को डिफेंस जवाब दाखिल करेगा. सीबीआई ने डिफेंस की दलीलों पर काउंटर किया है. हाइकोर्ट ने सुप्रीम कोर्ट के भी जजमेंट की कॉपी मांगी है.

देवघर कोषागार से अवैध निकासी के मामले में लालू प्रसाद यादव की ओर से याचिका दायर की गई है. इस मामले में सीबीआई कोर्ट लालू प्रसाद को साढ़े 3 साल की सजा दे चुकी है. लालू यादव चारा घोटाले से जुड़े विभिन्न मामलों में सजा काट रहे हैं. 23 दिसंबर 2017 से लालू यादव जेल में हैं. जमानत याचिका में लालू यादव ने अनुरोध किया कि उन्होंने जेल में सजा का आधे से ज्यादा वक्त बिता लिया है. इसलिए अब उन्हें जमानत दी जाए.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

सबको पता है कि लालू यादव को लेकर पहले भी झारखंड हाईकोर्ट से जमानत याचिका खारिज हो चुकी है. लालू यादव ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था. लेकिन वहां से भी उनको राहत नहीं मिली. दरअसल, सुप्रीम कोर्ट में सीबीआई ने हलफनामा दायर किया था. कहा गया था कि लालू यादव जेल में रहते हुए राजनीतिक पार्टी का संचालन कर रहे हैं. उनके यहां हर शनिवार को नेताओं का जमावड़ा लगता है. उनको अभी बेल नहीं दी जानी चाहिए. आखिर में सुप्रीम कोर्ट ने लालू यादव को झटका दिया था.

देवघर कोषागार से अवैध निकासी मामले में स्पेशल सीबीआई कोर्ट ने 23 दिसंबर 2017 को दोषी करार देते हुए लालू को 3.5 साल की सजा सुनाई थी. इसके बाद से लालू जेल में हैं. इसी बीच लालू यादव की तबियत खराब होने की खबरें भी आती रही हैं. पिछले साल 17 मार्च को तबीयत खराब होने के बाद उन्हें रिम्स और बाद में दिल्ली स्थित AIIMS में भर्ती कराया गया था. 11 मई को इलाज के लिए कोर्ट ने उनकी 6 हफ्ते की जमानत मंजूर की थी. बाद में इसे 14 और फिर 27 अगस्त तक बढ़ाया गया.आज पार्टी का स्थापना दिवस है और पार्टी कार्यकर्ताओं को लालू यादव के जमानत मिल जाने की बहुत उम्मीद थी.

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.