By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

सीएम ने कहा-BCCI की बिहार इकाई चाहती है स्टेडियम पर पूरा अधिकार,जो संभव नहीं है

Above Post Content

- sponsored -

बिहार में रणजी खेलने को लेकर लोगों में काफी उत्साह देखा जा रहा है.खुशी कारण भी है क्योंकि बिहार को काफी समय बाद रणजी क्रिकेट खेलने का मौक़ा मिला है. हालांकि टीमों के चयन में रिश्वतखोरी ने बिहार क्रिकेट एसोसिएसन के साथ ही BCCI के कार्य करने की प्रणाली पर भी सवाल खड़े हो गये हैं.

Below Featured Image

-sponsored-

सीएम ने कहा-BCCI की बिहार इकाई चाहती है स्टेडियम पर पूरा अधिकार, जो संभव नहीं है

सिटी पोस्ट लाइव- बिहार में रणजी खेलने को लेकर लोगों में काफी उत्साह देखा जा रहा है.खुशी कारण भी है क्योंकि बिहार को काफी समय बाद रणजी क्रिकेट खेलने का मौक़ा मिला है. हालांकि टीमों के चयन में रिश्वतखोरी ने बिहार क्रिकेट एसोसिएसन के साथ ही BCCI के कार्य करने की प्रणाली पर भी सवाल खड़े हो गये हैं. परन्तु इन सभी समस्याओं एवं खामियों के बावजूद भी BCCI बिहार में क्रिकेट को लेकर काफी फिक्रमंद है.

जबकि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि राज्य सरकार बीसीसीआई की परिकल्पना और नक्शे के अनुसार पटना स्थित राजेंद्र नगर स्टेडियम का जीर्णोद्धार कर उसे न्यूनतम किराये पर क्रिकेट संस्था को उपलब्ध करा सकती है.मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने राजेंद्र नगर स्टेडियम का जीर्णोद्धार कर उसे न्यूनतम किराये पर बीसीसीआई को उपलब्ध कराने के बाबत कहा, ‘बीसीसीआई की बिहार इकाई (बिहार क्रिकेट एसोसिएशन) चाहती है इस स्टेडियम पर उसका अधिकार हो, जो संभव नहीं है. स्टेडियम उन्हें सौंप देने से इलाके के बच्चों के खेलने के लिए जगह नहीं बच पाएगी.’

Also Read
Inside Post 3rd Paragraph

-sponsored-

उन्होंने आगे कहा, ‘राज्य सरकार अपनी राशि लगाकर उसे साधारण न्यूनतम किराए पर उपलब्ध करा सकती है. यह राज्य सरकार की ही संपत्ति रहेगी और इस संबंध में कला संस्कृति एवं युवा विभाग को सुझाव दे दिया है. सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि राजेंद्र नगर स्टेडियम के जीर्णोद्धार पर 100 करोड़ की लागत आएगी.’जो राज्य सरकार कराने को तैयार है लेकिन यह स्टेडियम राज्य सरकार की ही सम्पति रहेगी.वहीं शुक्रवार को यह भी कहा कि नालंदा में बन रहा स्टेडियम 600 करोड़ रूपये से अधिक का है जो अन्तर्राष्ट्रीय स्तर का है. इसके बन जाने से बिहार मेंक्रिकेट को काफी बढ़ावा मिलेगा.

जे.पी.चंद्रा की रिपोर्ट 

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.