By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

केकेएफआई द्वारा बिहार में खो-खो खेल और खिलाड़ी को बढ़ावा देने के लिए मैट व पौल प्रदान किया

HTML Code here
;

- sponsored -

खो-खो एसोसिएशन ऑफ बिहार द्वारा खो-खो खेल व खिलाड़ियों को बढ़ावा देने के लिए उनकी प्रतिभा को निखारने के लिए निरंतर लगातार प्रयास किया जा रहा है। इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए खो-खो फेडरेशन ऑफ इंडिया के निर्देशानुसार बिहार में ग्रासरूट खो-खो चैंपियनशिप-2021 बालक एवं बालिका का आयोजन प्रदेश के विभिन्न जिलों में किया जा रहा है।

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : खो-खो एसोसिएशन ऑफ बिहार द्वारा खो-खो खेल व खिलाड़ियों को बढ़ावा देने के लिए उनकी प्रतिभा को निखारने के लिए निरंतर लगातार प्रयास किया जा रहा है। इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए खो-खो फेडरेशन ऑफ इंडिया के निर्देशानुसार बिहार में ग्रासरूट खो-खो चैंपियनशिप-2021 बालक एवं बालिका का आयोजन प्रदेश के विभिन्न जिलों में किया जा रहा है। इस कार्यक्रम के सफल आयोजन से प्रभावित होकर भारतीय खो-खो महासंघ के महासचिव एम. एस. त्यागी जी ने हर्ष व्यक्त करते हुए खो-खो एसोसियेशन ऑफ बिहार को बधाई दी एवं साथ ही उन्होंने कहा कि भारतीय खो -खो महासंघ खो-खो खेल व खिलाड़ियों के विकास के लिए पूरे देश में लगातार प्रयासरत है।

बिहार स्टेट में भी खो -खो खेल व खिलाड़ियों को बढ़ावा देने को लेकर खो-खो एसोसिएशन ऑफ बिहार को भारतीय खो-खो महासंघ की ओर से हर संभव मदद की जाएगी। खो-खो खेल व खिलाड़ियों की प्रतिभा को निखारने के लिए खो-खो फेडरेशन ऑफ इंडिया द्वारा बिहार राज्य खो-खो संघ को खो-खो मैट और खो-खो पौल दिया गया। ताकि बिहार के भी अब खो-खो खिलाड़ी अब मैट पर अपने प्रतिभा का प्रदर्शन कर सकेंगें। ये जानकारी खो-खो एसोसिएशन ऑफ बिहार के महासचिव सह खो-खो एसोसिएशन ऑफ मुंगेर के अध्यक्ष नीरज कुमार पप्पू ने दी। साथ ही उन्होंने भारतीय खो -खो महासंघ के अध्यक्ष सुधांशु मित्तल , महासचिव एम. एस. त्यागी जी का दिल से आभार प्रकट किया एवं धन्यवाद दिया।

साथ ही उन्होंने बताया कि देश के सभी राज्यों में अभी खो-खो खेल खो-खो मैट पर नहीं खेला जाना संभव हो पाया है पर आज के दौर में अन्तर्राष्ट्रीय एवं राष्ट्रीय स्तर पर खो-खो चैंपियनशिप का आयोजन खो-खो मैट पर ही होता है। इसलिए बिहार में इसको बढ़ावा देने में सहयोग करने के लिए खो-खो फेडरेशन का ये प्रयास बहोत ही सराहनीय है ।प्रदेश में खो-खो खेल व खिलाड़ियों को लगातार बढ़ावा देने में सहयोग करने के लिए एवं खो-खो एसोसियेशन ऑफ बिहार को भारतीय खो-खो महासंघ द्वारा खो-खो मैट व खो-खो पौल प्रदान किए जाने पर खो-खो ऑफ मुंगेर के सचिव हरिमोहन सिंह ने हर्ष व्यक्त करते हुए शुभकामनाएं दी , साथ ही उन्होंने कहा कि अब बिहार में खो-खो खेल के विकास में एक नई गति मिलेगी… मैट मिल जाने से खिलाड़ी नए-नए तकनीक से रूबरू होकर और अपने प्रदर्शन में निखार ला पाएंगे।

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.