By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

बिहार के नियोजित शिक्षकों को नहीं मिलेगा वेतन,फीका रहेगा नए साल का जश्न

;

- sponsored -

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

बिहार के नियोजित शिक्षकों को नहीं मिलेगा वेतन,फीका रहेगा नए साल का जश्न

सिटी पोस्ट लाइव : बिहार के नियोजित शिक्षक न्य साल का जश्न नहीं मन पायेगें. जश्न मनाने के लिए पैसा होना चाहिए. लेकिन इस साल अबतक उन्हें वेतन ही नहीं मिला है. सूत्रों के अनुसार शिक्षा विभाग द्वारा  महालेखाकार कार्यालय को समय पर उपयोगिता प्रमाण पत्र जमा नहीं कराये जाने को लेकर शिक्षकों का वेतन रुक गया है. पैसे का आवंटन होने के वावजूद  ट्रेजरी से वेतन राशि की निकासी नहीं हो प् रही है. बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ ने इसे दुर्भाग्यपूर्ण बताया है.

संघ के प्रवक्ता सह मीडिया प्रभारी अभिषेक कुमार का आरोप है कि शिक्षा विभाग के पदाधिकारियों की लापरवाही और अकर्मण्यता की वजह से शिक्षकों को नए साल की शुरुवात किल्लत के साथ करनी पड़ रही है. उन्होंने कहा है कि संघ के अध्यक्ष सह विधान पार्षद केदारनाथ पांडेय व महासचिव व पूर्व सांसद शत्रुघ्न प्रसाद सिंह लगातार शिक्षा विभाग व वित्त विभाग के प्रधान सचिव से मिलकर इसके निराकरण के प्रयास में जुटे हैं. उन्होंने जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय, पटना के उस फरमान पर भी घोर विरोध जताया है, जिसमें पटना जिला के सभी विद्यालयों के प्रधानों का वेतन रोकने का आदेश जारी कर दिया गया है.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

गौरतलब है कि अधिकांश विद्यालयों ने विभिन्न लाभुक योजनाओं से संबंधित सूची तथा पूर्व का उपयोगिता प्रमाण पत्र जिला शिक्षा कार्यालय में जमा कर दिया. उन्हें भी इस आदेश की मार झेलनी पड़ रही है. शिक्षा विभाग की लालफीताशाही और अफसरशाही की वजह समग्र शिक्षा अभियान के तहत कार्यरत शिक्षकों को भी पिछले पांच माह से वेतन नहीं मिल पाया है. अतिथि शिक्षकों को नियुक्ति के बाद से आज तक एक रुपया नहीं मिला है.ये शिक्षक कैसे न्य साल का जश्न मनायेगें.

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.