By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

ठंड के सितम से बिहार बेहाल, 22 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही हवा

;

- sponsored -

बिहार में कड़ाके की ठंड ने लोगों का सुकून चैन सब छीन लिया है. पछुआ हवाओं ने न सिर्फ राजधानी पटना बल्कि बिहार के अन्य जिलों में भी कनकनी बढ़ा दी है. आलम ये है कि लोगों का घर से बाहर निकलना बेहद मुश्किल हो गया है.

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

ठंड के सितम से बिहार बेहाल, 22 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही हवा

सिटी पोस्ट लाइव : बिहार में कड़ाके की ठंड ने लोगों का सुकून चैन सब छीन लिया है. पछुआ हवाओं ने न सिर्फ राजधानी पटना बल्कि बिहार के अन्य जिलों में भी कनकनी बढ़ा दी है. आलम ये है कि लोगों का घर से बाहर निकलना बेहद मुश्किल हो गया है. ऊनी कपडे भी लोगों के लिए कम पड़ रहे हैं. ठंडी शर्द हवा के थपेड़े से लोग परेशान हैं. सोमवार को बिहार के करीब  एक दर्जन से अधिक जिलों में सीवियर कोल्ड डे रहा. पछुआ हवाओं और दिन भर बादल छाये रहने की वजह से लोगों को काफी परेशानी हुई.

सोमवार को पटना का अधिकतम तापमान 14 डिग्री और न्यूनतम तापमान का 8.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज  किया गया. रविवार की तुलना में सोमवार को अधिकतम तापमान में करीब डेढ़ डिग्री तो न्यूनतम तापमान में 0.2 डिग्री की गिरावट दर्ज की गई . गौरतलब है कि अधिकतम तापमान सामान्य से 8 डिग्री सेल्सियस कम रिकॉर्ड किया गया. मौसम विभाग की मानें तो अधिकतम और न्यूनतम तापमान में 6 डिग्री का अंतर होने के साथ ही 22 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली हवाओं से ठंड बढ़ी है.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

मौसम विभाग ने कहा है कि अभी ये ठंड एक सप्ताह लोगों को और परेशान करेगी. जाहिर है जिस तरह से पिछले दो दिनों से सूर्य देवता के दर्शन नहीं हुए हैं, उससे कनकनी और बढ़ गई है. लोगों को ऑफिस आने जाने वाले लोगों को भारी समस्या हो रही है. ठंड सेबीमार होने वाले लोगों में भी इजाफा देखा जा रहा है. डॉक्टरों का भी कहना है कि इस मौसम में बच्चों के साथ बड़े बूढ़े भी अपना खास ध्यान रखें. वैसे लोग को बीपी और शुगर की बीमारी से ग्रसित हैं. उन्हें ठंड में ज्यादा इधर उधर जाने की जरुरत नहीं है.

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.